पन्ना: पन्ना टाइगर रिजर्व के ग्रास लैण्ड, सागौन तथा खैर के पेड़ो देखकर हुये प्रसन्न

February 21st, 2022

डिजिटल डेस्क ,पन्ना। मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने रविवार को पन्ना पहँुचकर टाइगर रिजर्व का भ्रमण किया। देश के राज्यपाल का टाइगर रिजर्व के मड़ला गेट में पीटीआर के फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा सहित वन विभाग के अधिकारियों द्वारा स्वागत किया गया। राज्यपाल के साथ टाइगर रिजर्व के भ्रमण के लिये भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सासंद बिष्णु दत्त शर्मा, खनिज मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह पर्यटन मंत्री ऊषा ठाकुर भी भ्रमण में शामिल थे। टाइगर रिजर्व के भ्रमण के दौरान राज्यपाल ने प्रकृति के साथ जंगली जानवारों का दीदार किया गया। भ्रमण के दौरान राज्यपाल का बाघों से भले ही दीदार नही हो पाया परंतु टाइगर रिजर्व की खूबसूरती वन्य प्राणियों के स्वच्छंद विचरण करते हुए देखकर वे बेहद आकर्षित हुए। राज्यपाल ने वन अधिकारियों, वनकर्मियों के साथ सुरक्षा श्रमिकों के साथ हाथियों की देखभाल करने वाले महावतों से बातचीत की गई तथा टाइगर रिजर्व में वन प्राणियों एवं जं्रगल की सुरक्षा के प्रबंधों की जानकारी प्राप्त की। टाइगर रिजर्व का भ्रमण करने पहँुचे राज्यपाल ने बड़ी संख्या में खैर के वृक्षों को देखा तो बताया कि इतनी अधिक संख्या में उन्होनें खैर के वृक्ष किसी भी जंगल में नही देखे हैॅ। सागौन के विशालकाय वृक्षों को देखकर भी उन्होनें प्रशंसा की। पन्ना टाइगर रिजर्व में पहँुचे राज्यपाल के महावतों से टाइगर रिजर्व के हाथियों की खूबियों के संबंध में बातचीत की गई साथ ही साथ हाथियों का सुरक्षा के दौरान किस तरह से उपयोग हो रहा है इसके बारे में विस्तार जाना। राज्यपाल ने टाइगर रिजर्व के अंदर वाच टावरों का निरीक्षण किया तथा वाच टावरों से की जाने वाली सुरक्षा के बारे में जानकारी ली गई। भ्रमण के दौरान वे विस्थापित हो चुके पीपर टोला पहँुचे जहां पर पूर्व में लोग रहते थे अब वह पीपर टोला पूरी तरह से ग्रास लैण्ड में बदल चुका है। राज्यपाल ने टाइगर रिजर्व के घने ग्रास लेैण्ड की तरीफ की गई। पन्ना टाइगर रिजर्व द्वारा भ्रमण पर पहँुचे प्रदेश के राज्यपाल कर्णावती केन्द्र में पन्ना टाइगर रिजर्व के बाघ विहीन होने के बाद बाघ पुर्नस्थापना योजना के अतंर्गत लाई गई प्रथम बाघिन का चित्र भेंट किया गया।