comScore

 खेत के रास्ते को लेकर दो पक्षों में विवाद, एक भाई की हत्या, दूसरे की हालत नाजुक

 खेत के रास्ते को लेकर दो पक्षों में विवाद, एक भाई की हत्या, दूसरे की हालत नाजुक

डिजिटल डेस्क टीकमगढ़/दिगौड़ा । थाना दिगौड़ा अंतर्गत ग्राम नादिया सकरया में खेत में बने रास्ते को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के दो सगे भाइयों की लाठियों से जमकर पिटाई कर दी। घटना में एक भाई की मौत हो गई, जबकि दूसरे भाई की हालत नाजुक बताई जा रही है। उसे जिला अस्पताल से झांसी रैफर किया गया है। पुलिस ने 8 आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। घटना मंगलवार सुबह करीब 11 बजे की है। मंगलवार को जिले में लगातार दूसरे दिन हत्या का मामला सामने आया है। सोमवार को मंजना गांव में बहू के मायके जाने पर शुरू हुए विवाद में सास की हत्या की घटना सामने आई थी। पुलिस के मुताबिक दो सगे भाई नारायणदास लोधी पिता कल्ले लोधी उम्र 60 साल और भगवानदास लोधी पिता कल्ले लोधी उम्र 66 साल सुबह 11 बजे करीब जब अपने घर पर थ,े तभी हल्का पटवारी जमीन का मौका मुआयना करने के लिए आए और जमीन संबंधित कार्य के लिए मौके पर साथ ले गए।  इस बीच गांव के ही कुछ लोग पीछे से पहुंच गए और जमीन के पास रास्ते को नापने की कार्रवाई का विरोध करने लगे। इस पर दोनों भाइयों ने उन्हें  मना किया, तब आरोपी उग्र हो गए और लाठी-डंडे दोनों भाइयों के सिर पर मार दिए, जिससे उन्हें गंभीर चोटें आई हैं। गंभीर रूप से घायलों को जिला अस्पताल में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने नारायणदास लोधी को मृत घोषित कर दिया। वहीं उनके  भाई भगवानदास लोधी को गंभीर चोटें आने पर इलाज किया जा रहा है।  
मृतक के परिजन दिनेश लोधी का कहना है कि मुझे जैसे ही घटना की सूचना मिली तो तुरंत डायल 100, पुलिस थाना दिगौड़ा के अलावा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को मोबाइल पर घटना की सूचना दी, लेकिन सूचना के 2 घंटे बाद तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इलाज के लिए हम परिजनों के साथ अपने वाहन से जिला अस्पताल टीकमगढ़ लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने नारायण दास को मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने आरोप लगाया की अगर पुलिस समय पर घटनास्थल पर पहुंच जाती और उसी समय नारायणदास का इलाज कराया जाता, तो शायद उसकी जान बच सकती थी। 
पटवारी ने कहा विवाद देख मै भाग निकला 
नादिया के हल्का पटवारी धरनीधर सौर ने बताया कि जब दोनों पक्षों की सुनवाई कर रहे थे, तभी विवाद ज्यादा बढ़ता देख में घटनास्थल से भाग निकला। उन्होंने बताया कि सकरया निवासी भगवानदास लोधी ने 19 जून को तहसीलदार मोहनगढ़ को रास्ता संबंधी एक आवेदन पत्र दिया था। जिसकी जांच करने मंगलवार को करीब सुबह 11 बजे करीब मैं मौके पर गया था। पटवारी ने बताया कि भूमि खसरा नम्बर-637, 638, 641 भगवान दास, बृगभान के शामिलाती भूमि है। इसी भूमि से नादिया खिरक को रास्ता निकलता है। पटवारी ने बताया कि हमने दोनों पक्षों को मौके पर बुलाया था। जैसे ही दोनों पक्ष मौके पर पहुंचे तो विवाद होने लगा। जब विवाद ज्यादा बढऩे लगा तो मैं वहां रुका नहीं और घटनास्थल से भाग निकला। 
8 आरोपियों पर हत्या का मामला दर्ज 
दिगौड़ा थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह पवार ने बताया कि घटना को अंजाम देने वाले 8 आरोपियों पर हत्या व अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। जिन आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है, उनमें केशवदास लोधी, बृगभान लोधी, नथुआ लोधी, केहर सिंह लोधी, राजकुमार लोधी, देशराज लोधी, राजू उर्फ राजेंद्र लोधी और सूरज अहिरवार का नाम शामिल हैं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 307, 147, 148, 149 के तहत मामला दर्ज किया है। थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह पवार ने बताया की पुलिस टीम गठित कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
 

कमेंट करें
daAqy