नागपुर: जिप की तबादला प्रक्रिया में गड़बड़ी, कर्मचारी ने किया हंगामा

May 12th, 2022

डिजिटल डेस्क,नागपुर। जिला परिषद में कर्मचारियों की तबादला प्रक्रिया में समुपदेशन दौरान अधिकारी सन्न रह गए, जब एक कर्मचारी ने सीधे पैसे लेकर तबादले करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। तबादला सूची में नाम रहने पर भी उसका तबादला करने से इनकार करने पर वह बौखला गया। अधिनस्थ कर्मचारी ने वरिष्ठों पर तबादले के लिए आर्थिक लेनदेन का खुला आरोप लगाने से जिला परिषद अधिकारी, कर्मचारियों में खलबली मच गई। जिला परिषद में 9 मई से कर्मचारियों की तबादला प्रक्रिया आरंभ हुई। 11 मई को सामान्य प्रशासन विभाग के कर्मचारियों का समुपदेशन किया गया। इस दौरान एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी तबादला नहीं करने पर बौखला गया। समुपदेशन प्रक्रिया में मंच पर विराजमान अधिकारियों की ओर हाथ दिखाते हुए आप लोग पैसे लेकर तबादले करते हो, यह आरोप लगाते हुए जोर-जोर से चिल्लाने लगा। प्रशासन के प्रति रोष प्रकट करने से अधिकारी, कर्मचारी एक-दूसरे के चेहरे देखते रह गए।

12-13 साल से एक जगह कार्यरत : हंगामा मचाने वाला कर्मचारी कामठी तहसील के गुमथला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। वह 12-13 साल से उसी जगह कार्यरत बताया जाता है। जिला परिषद की ओर से जारी तबादला सूची में उसका नाम शामिल है। वह नागपुर ग्रामीण में तबादला चाहता है। जिस जगह कार्यरत है, वहां केवल एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कार्यरत रहने से उसका तबादला करने से प्रशासन ने मना कर दिया। प्रशासन ने उसका जानबूझकर तबादला रोक दिया, यह मानकर उसका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। उसने आव देखा न ताव, सीधे वरिष्ठों पर निशाना साधकर अपने दिल की भड़ास निकाली। एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने प्रथम श्रेणी अधिकारी के सामने पैसे लेकर तबादले करने का रोष प्रकट करने से प्रशासन की पारदर्शी तबादला प्रक्रिया पर दाग लग गया है। उसके आरोप में कितनी सच्चाई है, यह जानने के लिए प्रशासन की अोर से कड़े कदम उठाए जाने की सूत्रों ने जानकारी दी।

संतप्त कर्मचारी को समझाइश
कर्मचारी ने रोष प्रकट करने पर प्रशासन की ओर से उसे समझाइश दी गई। एकल पद रहने के कारण आपसी तबादले के लिए किसी अन्य कर्मचारी के साथ तालमेल बैठाने की सलाह दी गई। अन्यथा आगे चलकर अनुकंपा भरती में कर्मचारी की नियुक्ति होने पर तबादला करने का िवश्वास दिलाया गया। तबादले की समुपदेशन प्रक्रिया में जिप सीईओ योगेश कुंभेजकर, अतिरिक्त सीईओ डॉ. कमलकिशोर फुटाने, सामान्य प्रशासन डिप्टी सीईओ प्रमिला जाखलेकर, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दीपक सेलोकर, प्राथमिक शिक्षणाधािकारी रोहिणी कुंभार आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...