दैनिक भास्कर हिंदी: नम आंखों से शहीद को विदाई , मुख्यमंत्री ने दिया कांधा , राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

June 19th, 2020

डिजिटल डेस्क  रीवा । गलवान घाटी में चीन के साथ हिंसक झड़प में शहीद हुए मध्य प्रदेश के वीर सपूत और रीवा के बेटे दीपक सिंह गहरवार को अपनी माटी के लाल को कंधा देने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी गांव पहुंचे। दूर दूर से आए हजारों लोगों ने नम आंखों से देश के सपूत को अंतिम विदाई दी । बड़ी संख्या में लोग वीर शहीद की अंतिम झलक पाने, उन्हें अंतिम नमस्कर करने के लिए सुबह से ही आने लगे थे। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ वीर को अंतिम सफर में कंधा दिया। इस दौरान उपस्थित जनसमुदाय शहीद दीपक अमर रहे भारत माता की जय के गगनभेदी नारे लगता रहा । इन्हीं गगनभेदी नारों के बीच राजकीय सम्मान और सेना के बैंड की धुनों के साथ भारत के सपूत काअंतिम संस्कार किया गया।
आज देश-प्रदेश और रीवा धन्य हो गया  
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज मध्य प्रदेश और देश धन्य हो गया यहां की धरती और रीवा जिला धन्य हो गया, । इस गांव सपूत ने देश की अखंडता और संप्रभुता की रक्षा के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिये। उन्होंने कहा कि ऐसे सपूतों के रहते हुए भारत माता की तरफ कोई आंख उठाकर नहीं देख सकता है। उन्होंने कहा दीपक सिंह के परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता, उनकी पत्नी को सरकारी सेवा में लिया जाएगा, उनके नाम से सड़क का नाम और उनकी मूर्ति लगाएंगे और गांव के लोग, जो भी चाहेंगे। शहीद का पार्थिव शरीर उनके गृह जिले रीवा के गांव फरेदा लाया गया। मध्य प्रदेश की सीमा चाक घाट से ही अपने शहीद बेटे की अगवानी के लिए लोगों का हुजूम जुटने लगा था।  लोगों ने नारे लगाकर उनकी अगवानी की। उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।