comScore

कर्ज में दबे किसान ने की आत्महत्या - बैंक से नोटिस मिलने के बाद तनाव में था

कर्ज में दबे किसान ने की आत्महत्या - बैंक से नोटिस मिलने के बाद तनाव में था

डिजिटल डेस्क रीवा । गुरूवार की सुबह एक किसान ने यहां फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जिले के सेमरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत पटना गांव के किसान वंशपति साहू 56 वर्ष द्वारा आत्महत्या किए जाने की जानकारी मिलते ही पुलिस पहुंची और पंचनामा कार्यवाही कर पोस्टमार्टम कराया। परिजन द्वारा यह बताया गया है कि उस पर मध्यांचल ग्रामीण बैंक पर सवा दो लाख का कर्ज था। इस राशि को जमा करने के लिए उसे नोटिस दिया गया था, जिसके चलते वह काफी तनाव में था और इसी तनाव के बीच उसने यह कदम उठाया है।
अगस्त माह में जारी हुई थी नोटिस
मध्यांचल ग्रामीण बैंक शाखा बीड़ा से  वंशपति साहू को ऋण अदायगी के लिए 23 अगस्त 2018 को नोटिस जारी की गई थी। इस नोटिस में उसे दस दिन के अंदर राशि देने को कहा गया था लेकिन आर्थिक तंगी से जूझते इस किसान के पास कर्ज चुकाने के लिए पैसों की व्यवस्था नहीं हो रही थी, जिससे वह काफी तनाव में था। वह अपने परिवार के लोगों से इसका जिक्र आए दिन कर रहा था। वह कई बार यह कह चुका था कि लगता है कि अब ज्यादा दिन जिन्दा नहीं रह पाएंगे।
बाम्बे में मजदूरी करता है बेटा
मृतक के दो बेटे हैं। एक बेटा घर पर ही रहता है, जबकि दूसरा बेटा बाम्बे में रहकर मजदूरी करता है। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। कर्ज लेकर वंशपति खेती-किसानी कर रहा था लेकिन प्रकृति ने साथ नहीं दिया। फसल खराब हो जाने से उसे काफी घाटा उठाना पड़ा। जिसके चलते वह कर्ज नहीं चुका पा रहा था। अंतत: इतना परेशान हुआ कि आत्महत्या कर ली। हालांकि प्रशासन अभी इस संबंध में कुछ भी नहीं कह रहा। 
इनका कहना है 
 वंशपति साहू ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। पोस्टमार्टम कराकर शव परिजन के सुपुर्द कर दिया गया है। उसने यह कदम किस कारण से उठाया इसकी जांच की जा रही है।
डीके दाहिया, टीआई सेमरिया
 

कमेंट करें
TytuK