comScore

अनपरा परियोजना की सातवीं इकाई में लगी आग, चार झुलसे -500 मेगावाट क्षमता की इकाई के बंद 

अनपरा परियोजना की सातवीं इकाई में लगी आग, चार झुलसे -500 मेगावाट क्षमता की इकाई के बंद 

डिजिटल डेस्क  अनपरा। अनपरा परियोजना की 500 मेगावाट की सातवीं इकाई के जेनरेटर के एक्साइटर में दोपहर अचानक आग लग जाने से हडक़ंप मच गया। हादसे में कार्य कर रहे चार कर्मियों के झुलस जाने की खबर है। वहीं हादसे के बाद 500 मेगावाट की इकाई से बिजली उत्पादन ठप हो जाने के कारण प्रदेश में बिजली संकट गहराने की संभावना जताई जा रही है। अनपरा की सातवीं तथा अनपरा डी की दूसरी इकाई के जेनरेटर के एक्साइटर में दोपहर 2 बजकर 25 मिनट पर अचानक आग लग गई। इस दौरान कार्य कर रहे चार कर्मियों के झुलस जाने से मौके पर अफ रा-तफ री मच गई। आनन-फ ानन में घायल कर्मियों को उपचारार्थ वाराणसी ले जा गया। गौरतलब हो कि वृहद अनुरक्षण के लिए अनपरा की 500 मेगावाट की पांचवीं इकाई पहले से ही बंद चल रही है। ऐसी स्थिति में सातवीं इकाई से भी बिजली उत्पादन ठप हो जाने से प्रदेश में बिजली संकट गहराने की संभावना जताई जा रही है। 
कोर कमेटी करेगी हादसे की जांच 
अनपरा परियोजना के सीजीएम इं एचपी सिंह ने बताया कि हादसे को गंभीरता से लिया जा रहा है। आग के कारणों की जांच कर भविष्य में इस प्रकार के हादसे की पुनरावृति को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। 
लाखों की क्षति का अनुमान 
हादसे में लाखों की क्षति का अनुमान लगाया जा रहा है। प्रबंधन का कहना है कि जेनरेटर की टेस्टिंग के बाद ही वास्तविक क्षति का आंकलन किया जा सकता है। इकाई के उत्पादनरत होने में महीनों लगने की संभावना जताई जा रही है।
 

कमेंट करें
BaWIf