दैनिक भास्कर हिंदी: बीजेपी ने लोकतंत्र को खत्म कर दिया, पत्रकार वार्ता में आक्रामक नजर आए यूपी के पूर्व सीएम

May 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, रीवा । उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि कर्नाटक राज्य में भाजपा सरकार ने लोकतंत्र का गला घोट दिया है। राज्यपाल जैसे महत्वपूर्ण पद को भी सत्ता की लालच में नहीं छोड़ा गया है। समाजवादी पार्टी का सीधी जिले में शुक्रवार को एक बड़ा कार्यक्रम था। जिसमें शामिल होने के बाद देर रात पूर्व सीएम रीवा के राजनिवास पहुंचे थे।

शनिवार की सुबह पत्रकारों के साथ चर्चा करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि सीधी का कार्यक्रम सफल रहा है, उम्मीद से ज्यादा जनता वहां पहुंची है, यूपी की तर्ज पर हम म.प्र. में भी काम करना चाहते हैं। अखिलेश ने कहा कि कर्नाटक में सुप्रीम कोर्ट के आदेश ने लोकतंत्र को बचाने का काम किया है।  उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने उत्तर प्रदेश में यमुुना एक्सप्रेस-वे के साथ ही लखनऊ, नोयडा में मेंट्रो सेवा चालू कराई है, कानपुर में भी इसके लिए सपा सरकार ने पूरी तैयारी कर दी थी, इसके साथ ही किसान, युवा, गरीब के मुद्दे को लेकर सपा म.प्र. में आगे बढ़ेगी। इस दौरान पूर्व मंत्री रामवृक्ष यादव, प्रदेश अध्यक्ष गौरी सिंह यादव सहित अन्य समाजवादी पार्टी के बड़े नेता मौजूद रहे।

बैलेट से निकलता है जनता का गुस्सा
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री से जब EVM को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि अटेर चुनाव में सबने देखा है कि कानपुर की मशीनों का भाजपा सरकार ने किस तरह से इस्तेमाल किया था। कई अधिकारियों को स्वयं निर्वाचन आयोग ने खुलासा के बाद हटाया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सरकार के प्रति EVM से जनता का गुस्सा नहीं निकलता है बल्कि बैलेट पेपर के सहारे ही सरकार को लेकर जनमानस अपने गुस्से का बखूबी इजहार करता है। हमने बैलेट से चुनाव के लिए चुनाव आयोग को पत्र लिखा है। जल्द अन्य दलों के साथ इस मामले को आगे बढ़ाया जाएगा।