रीवा: डायरी जमा करने गया था हाईकोर्ट आरक्षक 811 दिन से ड्यूटी पर वापस नहीं आया

January 13th, 2022

 डिजिटल डेस्क   रीवा।  दो साल पहले हाईकोर्ट में केस डायरी जमा करने थाना से गया आरक्षक विनोद सास्तिया ड्यूटी पर वापस नहीं आया। बिना किसी सूचना 811 दिन से (24 नवम्बर 2019 से 12 जनवरी 2022 तक) ड्यूटी में गैरहाजिर इस आरक्षक को एसपी नवनीत भसीन ने सेवा से पृथक कर दिया है। जिले के मऊगंज थाना में पदस्थ रहा यह आरक्षक 22 नवम्बर 2019 में हाईकोर्ट जबलपुर केस डायरी जमा करने गया था। इसे 24 नवम्बर को थाना में वापस आकर आमद देनी चाहिए। लेकिन वह नहीं आया। ड्यूटी पर न आने की कोई  सूचना भी आरक्षक द्वारा नहीं दी गई। 
विभागीय जांच के बाद कार्रवाई 
लम्बे समय तक ड्यूटी से अनुपस्थित इस आरक्षक के मामले को पुलिस महानिदेशक पुलिस मुख्यालय ने संज्ञान लेते हुए 29 दिसम्बर 2020 को विभागीय जांच के आदेश दिए थे। जिस पर थाना प्रभारी द्वारा जांच कर 3 मार्च 2021 को अपनी रिपोर्ट दी। इसके बाद डीएसपी मुख्यालय को जांच सौंपी गई। उन्होंने 11 नवम्बर 2021 को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी। इस तरह विभागीय जांच के बाद एसपी ने यह कार्रवाई की है। 
अलीराजपुर घर तक गई पुलिस
आरक्षक विनोद सास्तिया के गैरहाजिर होने के मामले में पुलिस अलीराजपुर उसके घर तक गई। जहां उसके भाई से नोटिस तामील कराई गई। विनोद के न मिलने पर घर पर नोटिस चस्पा की कार्रवाई भी की गई। 
2017 की रही भर्ती, चार सजाएं भी मिलीं
विनोद मूलत: अलीराजपुर जिले का रहने वाला था। वह 2017 में सेवा में आया था। बताते हैं कि अपने छोटे से कार्यकाल में ही उसे चार छोटी सजाओं  का दंड मिल चुका था।