दैनिक भास्कर हिंदी: पत्नि के कथित प्रेमी को मौत के घाट उतार पति ने ट्रेन से कटकर जान दी, पत्नी गंभीर

December 9th, 2018

डिजिटल डेस्क, दमोह। हिंडोरिया थानांतर्गत ग्राम मडिय़ा मोहली में शनिवार को एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई जिसमें एक सिरफिरे व्यक्ति ने पहले अपनी पत्नि पर जानलेवा हमला कर दिया और वहां से निकलकर उसने दो अन्य व्यक्तियों पर भी जानलेवा हमला कर दिया जिसमें एक की इलाज के दौरान मौत हो गई। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी द्वारा रेल से कटकर जान दे दी गई। घटना के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल निर्मित हो गया और पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर मामला जांच में लिया है। माना जा रहा है कि घटना के पीछे अवैध संबंधो के शक जैसी कोई बात हो सकती है लेकिन अभी तक इसकी पुष्टी नहीं हो सकी है।

प्राप्त जानकारी अनुसार ग्राम मडिय़ा मोहली में  शनिवार की सुबह करीब 9 बजे ग्राम के आरोपी युवक गुप्पू उर्फ देवकी पुत्र तेजा यादव 35 वर्ष ने अपनी पत्नी सुरजरानी उम्र 30 वर्ष पर लाठियों से हमला कर दिया। लाठियों के बार से मरणासन्न अवस्था में अपनी पत्नि को छोड़कर आरोपी घर से बाहर निकला और ग्राम के पूर्व सरपंच मोती लाल यादव को तलाश करते हुए उनके घर पहुंचा जहां पर मोती लाल को घर में ना पाकर वह उसे तलाश करते हुए उसके खेत में जा पहुंचा।

पिता को ना पाकर पुत्र पर किया हमला
आरोपी द्वारा खेत में मोती यादव को ना पाकर वहां उसके पुत्र संतोष 42 वर्ष को पाया जिसके बाद उसके द्वारा संतोष पर भी लाठियों से हमला करते हुए उसे भी मरणासन्न अवस्था में पहुचां दिया गया। गुस्साए आरोपी की तांडव यहीं नहीं रुका वहां से निकलते समय रास्ते में उसे ग्राम का ही  गोपी पुत्र बाबू यादव 45 वर्ष जो संतोष का चचेरा भाई है उस पर भी लाठियों से हमला कर दिया और उसे भी गंभीर रुप से घायल कर दिया।

तांडव मचाने के बाद खुद को किया खत्म
इस खूनी खेल को खेलने के बाद आरोपी युवक गुप्पू वहां से निकलकर ग्राम से करीब दो किमी दूर स्थित खड़ेरा रेल्वे फाटक पर पहुचां जहां वह रेल की पटरियों पर जाकर खड़ा हो गया। करीब 11.30 पर रेल्वे की पर ट्रेक पर आ रही एक रेल से कटकर उसने अपनी जान दे दी। वहीं घटना के बाद गंभीर रुप से घायल हुए सुरजरानी, संतोष व गोपी को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया जहां संतोष की गंभीर हालत के चलते उसे इलाज हेतु जबलपुर रैफर किया गया लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। वहीं जिला अस्पताल में आरोपी की पत्नि व अन्य की भी हालत गंभीर बनी हुई है।

ग्राम में फैला दहशत का माहौल
इस घटना में आरोपी युवक करीब दो घंटे तक गांव में अपना तांडव मचाता रहा जिसके चलते लोग दहशत में आ गए। इस दौरान आरोपी की हैवानियत से डरकर कई ग्रामीण अपने घरों में भी दुबक गए। मामले की जानकारी मिलने पर बांदकपुर चौकी प्रभारी रजनी समाधिया अपने बल के साथ मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरु की है और अभी तक घटना के पीछे अभी तक आरोपी की मंशा स्पष्ट नहीं हो सकी है। माना जा रहा है कि आरोपी ने अवैध संबंधो के शक के चलते उक्त घटना को अंजाम दिया है और बाद में खुद को भी खत्म कर दिया। वहीं पुलिस गंभीर रूप से घायल पत्नि व अन्य युवक के होश में आने का इंतजार कर रही है ताकि मामले का कारण सामने आ सके।

इनका कहना है
घटना में जहां एक घायल की मौत हो गई है वहीं आरोपी की भी मौत ट्रेन से कटकर हो गई है। पुलिस ने मामला जांच में लिया है और माना जा रहा है कि मामला अवैध संबंधो के शक का हो सकता है लेकिन हर पहलू की जांच गंभीरता से की जा रही है।
विवेक अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक दमोह

खबरें और भी हैं...