दैनिक भास्कर हिंदी: मैंने छतरपुर को मेडिकल कॉलेज दिया, कमलनाथ ने छीन लिया - शिवराज

September 16th, 2020

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने काठन सिंचाई परियोजना सहित 544 करोड़ के निर्माण कार्यों की आधारशिला रखी देवों के विधान से बनी शिवराज सिंह की सरकार  

डिजिटल डेस्क छतरपुर । बड़ामलहरा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम लिधौरा में मंगलवार को आयोजित हितग्राही सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने काठन वृहद सिंचाई परियोजना सहित 544 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यस किया। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने छतरपुर को मेडिकल कालेज दिया था, लेकिन कमलनाथ सरकार ने इसे निरस्त कर दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि छतरपुर जिले में पानी की कमी नहीं होने दी जाएगी। केन बेतवा परियोजना को जल्द शुरु किया जाएगा, ताकि छतरपुर और बड़ामलहरा के प्रत्येक गांव के खेत में पानी पहुंच सके। शिवराज ने कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि छतरपुर में मुख्यमंत्री रहते उन्होंने मेडिकल कालेज खोलने की घोषणा की और इसके लिए राशि भी स्वीकृत कर दी थी, लेकिन इसी बीच चुनाव हुए और कमलनाथ की सरकार बनी तो कमलनाथ ने छतरपुर के मेडिकल कॉलेज को निरस्त कर दिया। कमलनाथ की कांग्रेस सरकार ने छतरपुर के साथ सौतेला व्यवहार किया है।
उमा भारती से मां का प्यार मिला
सभा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उमाभारती के बीच एक-दूसरे की प्रशंसा की जुगलबंदी देखने को मिली। शिवराज ने कहा कि बचपन में ही उनकी मां का निधन हो गया था।  सुश्री उमा भारती से उन्हें मां का प्यार दुलार मिला है। वर्ष 2003 के पहले तक प्रदेश में काबिज बंटाधार दिग्विजय सिंह की सरकार को उमा भारती ने ही उखाड़ फेंका था।

खबरें और भी हैं...