दैनिक भास्कर हिंदी: तमिलनाडु : पेरियार की प्रतिमा तोड़ने के मामले में CRPF जवान गिरफ्तार

March 21st, 2018

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। देश में लेनिन की मूर्ति तोड़ने के बाद मूर्तियां तोड़ने का मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। तमिलनाडु के पुडुकोट्टई में पेरियार की प्रतिमा तोड़ने के ताजा मामले में पुलिस ने CRPF के एक जवान को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि जवान सेनथिल कुमार ने नशे की हालत में घटना को अंजाम दिया था। 

पेरियार की प्रतिमा का सिर था अलग


बता दें कि 20 मार्च को पेरियार की प्रतिमा का सिर अलग पड़ा हुआ मिला था। जिसके बाद पुलिस ने कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी। प्रशासन ने तुरंत ही प्रतिमा को सही भी करवा दिया था। वहीं सुरक्षा के मद्देनजर तनाव से निपटने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किए गए थे। 

रजनीकांत ने की थी निंदा

द्रविड़ आंदोलन के संस्थापक ई वी रामासामी पेरियार की मूर्ति तोड़ने को लेकर अभिनेता से नेता बने रजनीकांत ने भी बीजेपी नेता की टिप्पणी की निंदा की थी। बीजेपी नेता एच राजा ने पेरियार की प्रतिमा को लेकर विवादित टिप्पणी की थी। सुपरस्टार रजनीकांत ने टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा था कि तोड़फोड़ एक बर्बर कृत्य है। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।

देशभर में मूर्तियों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश 

गौरतलब है कि इससे पहले त्रिपुरा में लेनिन और तमिलनाडु में पेरियार की मूर्ति तोड़ने का मामला सामने आया था। इन घटनाओं के लिए बीजेपी पर आरोप लगाए गए थे। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मूर्ति तोड़ने की घटना को निंदनीय बताया था। 

कोलकाता में श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति पर कालिख

कोलकाता के कालीघाट में जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया था। पुलिस ने इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया था।

आजमगढ़ में अंबेडकर की प्रतिमा को किया खंडित

आजमगढ़ में कप्तानगंज थाना क्षेत्र के राजापट्टी गांव के बाहर खेत में लगी बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को कुछ अज्ञात लोगों ने खंडित कर दिया था। इसके पहले मेरठ के मवाना में अंबेडकर की प्रतिमा को अज्ञात लोगों ने तोड़ दिया था। 


पीएम ने जताई थी नाराजगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के अलग-अलग हिस्सों में मूर्तियों को नुकसान पहुंचाने वाली घटनाओं को लेकर नाराजगी जताई थी। पीएम ने इन मामलों को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बात की थी। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने राज्यों को दिशा-निर्देश जारी कर उनसे इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए जरूरी ऐहतियात बरतने के लिए कहा था। 
आरोपियों पर होगी कड़ी कार्रवाई 

प्रतिमा तोड़ने के मामले पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारत की संस्कृति किसी की प्रतिमा तोड़ने की इजाजत नहीं देती। राजनाथ सिंह कुछ दिन पहले अमृतसर के जलियांवाला बाग में शहीद ऊधम सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने पहुंचे थे। प्रतिमा का अनावरण करने के बाद राजनाथ सिंह ने यह बयान दिया था।
उन्होंने कहा था कि 'भले ही आप उनकी विचारधारा से सहमत हो या न हो लेकिन हिंसा भारत के कल्चर का हिस्सा नहीं हो सकती। जो भी मूर्ति तोड़ेगा उसके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।