comScore

छतरपुर में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 54 हुई - कुल एक्टिव केस की संख्या 9 है

छतरपुर में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 54 हुई - कुल एक्टिव केस की संख्या 9 है

डिजिटल डेस्क छतरपुर । जिले में रविवार को तीन नए कोरोना से संक्रमित व्यक्ति मिलने के बाद जिले में अब कुल संक्रमितों की संख्या 54 हो गई है। इन तीन संक्रमितों में से दो संक्रमित पनौठा ईशानगर और एक संक्रमित बड़ामलहरा के अंधियारा गांव का निवासी बताया जा रहा है। पनौठा गांव में मिले संक्रमितों का सैंपल तीन दिन पूर्व लिया गया था, जिसे जांच के लिए बीएमसी सागर भेजा गया था। जहां से एक ही परिवार के 17 वर्षीय युवक और 40 वर्षीय व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। चार दिन पहले ये सभी दिल्ली से लौटकर आए हैं। वे मजदूरी करने के लिए दिल्ली गए थे। परिवार के अन्य लोगों की स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच की जा रही है। वहीं बड़ामलहरा के अंधियारा गांव में 12 साल का बच्चा पॉजिटिव मिला है, जो अपने परिजनों के साथ जम्मू से लौटा था। दोनों गांवों में संक्रमित मिलने के बाद इन्हें कंटेनमेंट एरिया में तब्दील करके एसडीएम ने यहां आवाजाही बंद कर दी, इन गांवों में संदिग्धों की स्क्रीनिंग और सैंपल की जांच कराई जा रही है।
ट्रेन से आया संक्रमित
अंधियारा गांव में कोरोना संक्रमित मिला 12 वर्षीय बच्चा अपने माता-पिता के साथ जम्मू से 17 जून को वापस लौटा था। यह बच्चा अपने परिजनों के साथ जम्मू से ट्रेन से झांसी आया, जहां से निजी वाहन के द्वारा अपने गांव पहुंचा था। इसके परिवार में 5 सदस्य हैं, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। संक्रमित बच्चे को कोविड केयर सेंटर बड़ामलहरा में भर्ती कराया जा रहा है। एसडीएम एनआर गौड़, तहसीलदार केकेगुप्ता, सीईओ अजय सिंह ,डॉ. केपी बामोरिया के नेतत्व में पूरे गांव को सेनेटाइज कराया गया और बेरीकेडिंग की गई।  वहीं पनौठा गांव में एक ही परिवार का 40 वर्षीय और 17 वर्षीय युवक संक्रमित मिला है, जो दिल्ली से लौटे हैं। इनके परिवार के अन्य लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं।
दोनों गांवों की सीमाएं सील, कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया
ईशानगर के पनौठा और बड़ामहलरा के अंधियारा गांव को एसडीएम के आदेशानुसार सील कर दिया गया है, इन गांवों में पूर्णत: आवाजाही को बंद कर दिया गया है। कंटेनमेंट घोषित इन गांवों में राशन, फल, सब्जी, दूध का वितरण प्रशासन द्वारा होम डिलेवरी कराया जाएगा। गांव के सभी लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी स्वास्थ्य विभाग की टीम कर रही है। वहीं गांव में बाहर से आए लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में पूछा जा रहा है। संक्रमितों के संपर्क में सभी लोगों को क्वारेंटाइन करके इनके सैंपल लिए जा रहे हैं। गांव में एक मेडीकल और सुरक्षा टीम तैनात की गई है।  
8 माह की गर्भवती ने कोरोना को हराया, 3 संक्रमित हुए स्वस्थ
रविवार के दिन जिले में 8 माह की गर्भवती महिला ने कोरोना को मात दी और पूर्णत: स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौटी। यह महिला महोईखुर्द की निवासी है। वह कुछ दिन पहले दिल्ली में संक्रमित हुई थी। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में महिला का इलाज डॉक्टरों की टीम द्वारा किया गया। जहां संक्रमित महिला पूर्ण रूप से स्वस्थ हो गई। वहीं बड़ामलहरा और मऊसहानियां के दो व्यक्ति भी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। उन्हें फूलमालाओं से सम्मानित करते हुए स्वास्थ्य विभाग ने डिस्चार्ज टिकट सौंपा। अब तक जिले में कुल 45 संक्रमित स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं, जो होम क्वारेंटाइन पीरियड में प्रशासन की निगरानी में है।

 

कमेंट करें
2kegK