• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Journalist Shot in Front of Daughters in Ghaziabad Five persons including main accused arrested CCTV footage

दैनिक भास्कर हिंदी: Crime: गाजियाबाद में बेटियों के सामने पत्रकार को मारी गोली, पांच आरोपी गिरफ्तार

July 21st, 2020

हाईलाइट

  • उप्र के गाजियाबाद में पत्रकार विक्रम जोशी पर हमला
  • नाबालिग बेटियों के सामने हमलावरों ने मारी गोली
  • पुलिस ने मुख्य आरोपी सहित 5 को किया गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक पत्रकार को उसकी बेटियों के सामने गोली मार दी गई। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। विजय नगर इलाके में सोमवार रात पत्रकार को गोली मारी गई, जब वह अपनी दो नाबालिग बेटियों के साथ बाइक पर सवार थे।

घटना तब हुई जब पत्रकार विक्रम जोशी अपनी बहन के घर से लौट रहे थे। घात लगाए पांच हमलावरों ने उनका रास्ता रोका और हमला कर दिया। जोशी को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों की एक टीम उनकी हालत पर नजर रखे हुए है।

विक्रम जोशी ने विजय नगर पुलिस स्टेशन में कुछ दिनों पहले एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें उन्होंने कुछ लोगों पर भांजी के साथ छेड़खानी करने का आरोप लगाया था। पीड़ित के भाई अनिकेत जोशी ने कहा, कुछ लोग कुछ दिन पहले हमारी भांजी के साथ छेड़खानी कर परेशान कर रहे थे और मेरे भाई विक्रम जोशी ने इसका विरोध किया था और पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी। एक मामला भी दर्ज किया गया था, जिसके बाद उन बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी।

वीडियो में, हमलावरों के घटनास्थल से फरार हो जाने के बाद पत्रकार की बेटी को उनकी (जोशी) ओर रोते-चिल्लाते हुए भागते देखा जा सकता है। वीडियो में लड़की अपने पिता के बगल में सड़क पर बैठी हुई और राहगीर से मदद लेने की कोशिश करती नजर आ रही है। तेजी से कार्रवाई करते हुए, गाजियाबाद पुलिस ने इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने कहा, हमने गाजियाबाद के विजय नगर में एक पत्रकार को कुछ बदमाशों द्वारा गोली मारने के मामले में पांच को गिरफ्तार किया है। उनकी पहचान मोहित, दलबीर, आकाश, रवि और शाकिर के रूप में हुई है।

इस बीच, कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार की आलोचना की है। कांग्रेस कार्यकारिणी के सदस्य जितिन प्रसाद ने कहा, कानून और व्यवस्था ध्वस्त हो गई है और यहां तक कि पत्रकारों को भी नहीं बख्शा जा रहा है। यह सब पुलिस की नाक के नीचे हो रहा है।