दैनिक भास्कर हिंदी: किसान आंदोलन: किसानों ने सड़क पर फेंकी सब्जियां, जताया विरोध

June 4th, 2018

डिजिटल डेस्क, गाडरवारा। किसान आंदोलन के तीन दिन शांति से गुजर जाने के बाद आज किसानों ने सड़क पर आकर न केवल प्रदर्शन किया बल्कि कृषि उपज हरी सब्जियां सड़क पर फेंककर विरोध प्रकट किया।  किसानों के आंदोलन के बाद भी बाजार में फल सब्जियों की आवक एवं आपूर्ति में कोई प्रभाव नहीं पड़ा। आम दिनों की तरह लागों को हर चीज उपलब्ध थी।

लाभ का धंधा नहीं रहा खेती
गौरतलब है कि खेती किसानी की घटती आय और सरकार की किसान विरोधी नीतियों के विरोध में देशभर में 150 से अधिक किसान संगठनों द्वारा सरकारों को किसान और गांव की ताकत दिखाते हुए, पूरे देश में 1 जून से 10 जून तक गांव बंद आंदोलन किया जा रहा है। इस आंदोलन के चौथे दिन गाडरवारा में अनेकों किसानों ने सोमवार के दिन प्रात: काल 9 बजे शांतिदूत तिराहा पर हाथ में झंडा लेकर नारेबाजी करते हुए अपनी सब्जियां सड़क पर फेंककर प्रदर्शन किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के संभागीय अध्यक्ष देवेन्द्र पटैल ने कहा कि किसानों को उसकी उपज का वास्तविक मूल्य नहीं मिल रहा है और खेती का धंधा फायदे का साबित नहीं हो रहा है।

कर्ज में डूबे हैं किसान
कर्ज में डूबे अनेकों किसान आत्महत्या कर रहे है, सरकार हाथ पे हाथ धरे बैठी है हमारा आंदोलन तब तक जारी रहेगा  जब तक कि सरकार किसानों के हितों के लिये ठोस निर्णय नहीं लेती। इस अवसर पर मंडी उपाध्यक्ष बृजमोहन कौरव, किसान संघ जिला उपाध्यक्ष कृष्णपाल सिंह राजपूत, ब्लाक सांईखेड़ा अध्यक्ष नेपाल सिंह गुर्जर, जितेन्द्र पटैल, महामंत्री आनंद पटैल, सहमंत्री माधव पटैल के अलावा नितिन तिवारी, हेमंत पटैल, चन्द्रभान, अधरूज चौधरी, मुकेश साहू, राजेन्द्र राजपूत, महेन्द्र पटैल, परषोत्तम पटैल, एवं राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के पदाधिकारी एवं किसान मौजूद थे। प्रदर्शन के दौरान तहसीलदार संजय नागवंशी, पुलिस उप अधीक्षक सुमित केरकट्टा, नगर निरीक्षक अरविंद दुबे, सहायक निरीक्षक सगान सिंह एवं पुलिस बल मौजूद था।