दैनिक भास्कर हिंदी: शिर्डी में म्यूकर माइकोसिस ने ली 6 माह की बच्ची की जान

June 16th, 2021

डिजिटल डेस्क,  शिर्डी । शिर्डी में छह महीने की बालिका की म्यूकर माइकोसिस से मौत हो गई। इतनी कम आयु में इस बीमारी से मृत्यु होने की संभवत: देश में यह पहली घटना है। मृतक बच्ची का नाम श्रद्धा कोरके बताया गया है। जिसकी मौत शिर्डी के करीब लोनी गांव में प्रवरा ग्रामीण अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई।  कोपरगांव तहसील के वारी कान्हेगांव का मूल निवासी कोरके परिवार फिलहाल शिर्डी के पंढरीनाथ नगर में रह रहा है। 27 मई को उनकी छह महीने की बेटी श्रद्धा को दस्त और उल्टी होने लगी। माता-पिता उसे कोपरगांव के एक निजी अस्पताल में ले गए। डॉक्टर ने उसे एडमिट करने की सलाह दी।

इलाज के बाद भी श्रद्धा की तबीयत में सुधार न दिखने पर माता-पिता ने उसे नाशिक के साफल्य ट्रॉमा केयर में एडमिट किया। वहां श्रद्धा की कोविड जांच की गई, रिपोर्ट निगेटिव आई लेकिन ब्लड टेस्ट में पता चला कि कोरोना होने के बाद बच्ची स्वस्थ हो चुकी है। श्रद्धा के चेहरे, आंख और शरीर पर सूजन थी। उसे इलाज के लिए लोनी के प्रवरा ग्रामीण अस्पताल ले जाने का फैसला किया गया। कोपरगांव में एक रिश्तेदार और विधायक राधाकृष्ण विखे-पाटील के कार्यालय की मदद से बीते रविवार को सभी विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में बच्ची को प्रवरा अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसे वेंटिलेटर पर रखा गया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई।

बालिका को बचाने का पूरा प्रयास किया
प्रवरा ग्रामीण अस्पताल में 13 जून को श्रद्धा को एडमिट किया गया। बालिका का नाशिक में इलाज चल रहा था। वह वेंटिलेटर पर थी। बच्ची के तालू और आंख के पास लाल निशान थे। हमने श्रद्धा की जान बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन दुर्भाग्य से नाकाम रहे। डॉ. राजवीर भालवार, डीन, बालासाहेब विखे-पाटील मेडिकल कॉलेज