शिकायत पर कार्रवाई: भाजपा विधायकों बोंडे-खोपड़े समते तीन के खिलाफ जांच के आदेश

February 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। समुदायों के बीच नफरत फैलाने, मानहानिपूर्ण बयान देने और शांति भंग करने के मामले में मुंबई की एक अदालत ने भाजपा के दो विधायकों समेत तीन नेताओं के खिलाफ पुलिस को जांच के आदेश दिए हैं। एक वकील की शिकायत पर सुनवाई के बाद मजिस्ट्रेट कोर्ट ने भाजपा विधायक अनिल बोंडे और कृष्णा खोपड़े के साथ भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्य सुजीत जोगस के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं। मुंबई की आजाद मैदान पुलिस को मामले की छानबीन करने को कहा है। आरोप है कि पिछले महीने अलग-अलग आंदोलनों के दौरान भाजपा नेताओं ने साजिश के तहत अपमानजनक टिप्पणियां की और दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने वाले बयान दिए जिससे शांति भंग की जा सके। शिकायत के मुताबिक बोंडे ने अमरावती में हुए एक आंदोलन में शामिल थे जबकि जोगस जालना जिले में आयोजित आंदोलन की हिस्सा बने थे। अदालत ने पुलिस ने छानबीन के बाद मामले में 23 मार्च तक रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है। मामले में शिकायतकर्ता वकीत रवि प्रकाश जाधव युवा कांग्रेस से भी जुड़े हैं। अपनी शिकायत में जाधव ने दावा किया है कि भाजपा नेताओं ने आंदोलन के दौरान महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले और दूसरे लोगों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां की साथ ही आंदोलन के दौरान कोरोना संक्रमण से जुड़े दिशानिर्देशों का भी उल्लंघन किया गया।