comScore

किसान से 8 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए पटवारी गिरफ्तर

किसान से 8 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए पटवारी गिरफ्तर

डिजिटल डेस्क, छतरपुर। थाना क्षेत्र बमीठा के शिवराजपुर गांव में पदस्थ एक पटवारी किसान से रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया। पटवारी किसान से जमीन का नक्शा तरमीम करवाने के बदले में 10 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था। दो हजार रुपए किसान ने पहले दे दिए थे। इसके बाद सागर लोकायुक्त पुलिस को सूचना दी। इस पर डीएसपी बीएम द्विवेदी के नेतृत्व में लोकायुक्त टीम चंद्रनगर पहुंची। यहां पटवारी जब 8 हजार रुपए रिश्वत ले रहा था तभी पुलिस ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया। लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

क्या है मामला 

तहसील क्षेत्र राजनगर के शिवराजपुर गांव के किसान राजेन्द्र सिंह यादव को अपने स्वामित्व की जमीन का नक्शा तरमीम करवाना था। इसके लिए उसने हल्का में पदस्थ पटवारी अंकित पाठक से संपर्क किया। अंकित पाठक ने उसे चंद्रनगर स्थित अपने पटवारी कार्यालय में बुलाया। पटवारी अंकित पाठक ने किसान राजेन्द्र सिंह ने कहा कि उसे नक्शा तरमीम करवाने के बदले में दस हजार रुपए देना होंगे। इस पर किसान राजेन्द्र सिंह दो हजार रुपए दे दिए, लेकिन पटवारी शेष बचे 8 हजार रुपए पाने के लिए उसे मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगा और बार-बार दबाव बनाने लगा। इस पर किसान राजेन्द्र सिंह यादव ने लोकायुक्त एसपी सागर से संपर्क किया। एसपी लोकायुक्त ने मामले को समझने के बाद पटवारी और किसान के बीच हुई बातचीत का ऑडियो रिकार्ड करवाकर मामले की पुष्टि की। किसान द्वारा जब ऑडियो मिल गया तो एसपी ने प्रकरण डीएसपी को देते हुए कार्रवाई के लिए निर्देश दिए। 

रुपए लेते ही रंग गए हाथ 

सुबह टीआई बीएम द्विवेदी के नेतृत्व में लोकायुक्त टीम चंद्रनगर पहुंची। यहां पटवारी कार्यालय में बैठे पटवारी अंकित को राजेन्द्र सिंह ने 8 हजार रुपए (500-500 के 8 नोट) दिए। पटवारी ने जैसे ही रुपए जेब में रखे और लोकायुक्त टीम ने दबिश दे दी। पटवारी कुछ समझ पाता इसके पहले ही वह दबोच लिया गया। लोकायुक्त टीम ने उसके हाथ धुलवाए तो वे गुलाबी हो गए। इस पर पटवारी अंकित पाठक के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया। उसे जमानत पर छोड़ दिया गया।
 

कमेंट करें
xySqH