सेलू: आठ वर्ष से नहीं की सड़क की मरम्मत, बढ़ी दुर्घटनाएं

January 13th, 2022

डिजिटल डेस्क, सेलू। ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए गांव की सड़कें शहरों से जोड़ना जरूरी हैै। आपातकालीन स्थिति में समय पर नियोजित स्थान पर पहुंचा जा सके इस के लिए विविध योजनाओं के माध्यम से रास्तों के काम किए जा रहे हैं। सुकली से लहान आर्वी तक रास्ते की दयनीय अवस्था हो गई है। यह डामर का  रास्ता फिलहाल पूरी तरह उखड़ जाने से इस रास्ते पर दुर्घटनाएं बढ़ गई है। पिछले आठ वर्ष से प्रशासन की ओर से इस रास्ते की मरम्मत भी नहीं किए जाने से रास्ते से आवागमन करने वाले नागरिकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। तहसील के लहान आर्वी गांव की ओर जाने के लिए सुकली स्टेशन गांव से लहान आर्वी तक के 2 किलोमीटर का रास्ता तैयार किया गया था। रास्ता होने से गांवों के नागरिकों को तहसील के स्थान में आवागमन करने तथा खेती के काम के लिए, स्कूली विद्यार्थियों को इस रास्ते का सहारा था। इस रास्ते पर सामान्य वाहनों सहित भारी वाहनों की भी बड़े पैमाने में आवाजाही होने से अल्पावधि में ही इस रास्ते का डामर उखड़ गया है। आठ वर्ष पूर्व इस रास्ते का काम किया गया था, तब से लेकर अब तक संबंधित विभाग की ओर से इस रास्ते की मरम्मत भी नहीं की गयी। फिलहाल इस रास्ते पर जगह-जगह बड़े-बड़े  गड्ढे पड़ गए हैं। ये गड्‌ढे दुर्घटना को निमंत्रण देने वाले साबित हो रहे हैं। गत आठ वर्ष से प्रशासन की ओर से इस रास्ते की मरम्मत की ओर अनदेखी होने से इस रास्ते से आवागमन करने वाले नागरिकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस रास्ते की दुरुस्ती की जाए, इस के लिए गांव के नागरिकों ने अनेक बार शासकीय कार्यालय के चक्कर काटे लेकिन अब तक कोई भी सफलता हाथ नहीं लगी। नागरिकों की मांग की ओर संबंधित विभाग की ओर से अनदेखी होने से पिछले जिला परिषद के चुनाव पर ग्रामवासियों ने बहिष्कार किया  था। उस समय संंबंधित विभाग के अधिकारियों ने ग्रामवासियों के साथ चर्चा कर जल्द ही रास्ता तैयार करवाया जाएगा, एेसा आश्वासन दिया था। लेकिन  चुनाव के बाद विभाग का एक भी अधिकारी गांव में नहीं आया। इस बात को पांच वर्ष बीत गए। इस रास्ते पर संबंधित विभाग की ओर से मुरूम भी नहीं डालने से ग्रामवासियों की ओर से रोष व्यक्त किया जा रहा है।

नागरिकों का रोष बढ़ने से पहले ही करें सड़कों की मरम्मत  

ज्योत्स्ना परिमल, सरपंच, गुट ग्राम पंचायत सुकली के मुताबिक गांव के रास्ते का काम नहीं किए जाने से आगामी चुनाव पर ग्रामवासियों ने बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। साथ ही जब तक रास्ते का काम नहीं किया जाता तब तक किसी भी राजनीतिक पार्टी के नेताओं को गांव में प्रचार के लिए आने नहीं दिया जाएगा एेसा निर्णय लिया गया है। इस रास्ते के लिए वर्षभर से संबंधित विभाग को निवेदन दिए गए हंै लेकिन  अब तक इस पर गौर नहीं किया गया। इस कारण ग्रामवासियों में रोष का वातावरण है। यह रोष अधिक तीव्र  होने के पूर्व संबंधित विभाग रास्ते का काम करें, एेसी उम्मीद  है।