comScore

सरपंच ने जांच में कबूली अनियमितता , किया था 1 लाख 80 हजार का गबन

सरपंच ने जांच में कबूली अनियमितता , किया था 1 लाख 80 हजार का गबन

डिजिटल डेस्क सिंगरौली(वैढऩ)। जनपद पंचायत वैढऩ अन्र्तगत ग्राम पंचायत सिगाही में शौचालय निर्माण में भारी अनियमितता किये जाने का मामला प्रकाश में आया है। ग्रामीणों के समक्ष सरपंच धजनधारी कुशवाहा ने लिखित में एक लाख 80 हजार रूपए गबन करना स्वीकार किया है। इसके साथ ही शासन की उक्त राशि शीघ्र ही जनपद पंचायत के खाते में जमा कराने की हामी भी भरी है। 
राशि का भुगतान गलत वेंडर के खाते में किया 
जानकारी के अनुसार ग्रामीणों की शिकायत पर जनपद पंचायत सीईओ बीके सिंह ने ग्राम पंचायत सिंगाही में स्वच्छ भारत मिशन अन्र्तगत हुए शौचालय निर्माण कार्य की जांच हेतु टीम गठित किया था। खंड पंचायत अधिकारी व एडीईओ जैसल द्वारा जांच करने पर पाया गया कि शौचालय निर्माण किये बगैर राशि का भुगतान गलत वेंडर के खाते में किया गया है। ग्रामीणों की शिकायत सही पाये जाने पर सरपंच ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए एक लाख 80 हजार रूपए वापस करने का लिखित हामी भरी है।
कहीं दबा न दी जाय फाइल
ग्राम पंचायतों में अक्सर अनियमितता की जांच होती है लेकिन एक दो प्रकरणों को छोडकऱ सारी जांच की फाइलें या तो धूल फांकने के लिए आलमारियों में बंद कर दी जाती है या जांच टीम द्वारा ही शिकायत को झूठा करार दे दिया जाता है। लेकिन सिंगाही सरपंच के स्वीकारोक्ति के बाद अब देखने वाली बात यह है कि जनपपद पंचायत सीईओ श्री सिंह गबन की राशि वसूली करवाने में सफल होते हैं या उसे अभयदान दे देते हैं।
 

कमेंट करें
dnuzr