मातम में बदलीं खुशियां: चार पहिया वाहन की चपेट में आए स्कूटी सवार चचेरे भाई, एक की मौत, दूसरा गंभीर

May 19th, 2022

डिजिटल डेस्क, रीवा। बहन की विदा कराकर लौट रहे चचेरे भाई चार पहिया वाहन की चपेट में आ गए। स्कूटी में सवार एक भाई की जहां मौत हो गई, वहीं दूसरा जिन्दगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है। यह हादसा गढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत कटरा-नईगढ़ी मार्ग पर हुआ है। इस घटना को लेकर यह भी आरोप लग रहे हैं कि एक इंजीनियर ने जान-बूझकर ठोकर मारी है।

सप्ताह भर पहले बहन के हाथ हुए पीले-

नईगढ़ी थाना क्षेत्र के ग्राम जोधपुर निवासी सोनू उपाध्याय एवं कमलेश उपाध्याय (दोनों चचेरे भाई) स्कूटी से घर लौट रहे हैं। बताया गया है कि एक सप्ताह पहले बहन की शादी हुई थी। जिसे ससुराल से विदा कराने ये दोनों भी गए थे। विदा कराकर लौटते समय कोडाया नाला के समीप स्कार्पियो वाहन की ठोकर लग गई। इस घटना में कमलेश की मौत हो गई, जबकि सोनू उपाध्याय गंभीर है। इस तरह बहन को विदा कराकर घर ले जाने की खुशियां मातम में बदल गई।

इंजीनियर के वाहन से एक्सीडेंट-

जिस चार पहिया वाहन से यह हादसा हुआ है, वह एक इंजीनियर का बताया जा रहा है। जिसकी पुलिस जांच कर रही है। पुलिस ने इस वाहन को जब्त कर लिया है। वाहन नम्बर के आधार पर पुलिस को पता चला है कि यह वाहन हरीश शर्मा का है।

तालाब निर्माण का था विवाद-

इस हादसे को लेकर यह भी आरोप लगे हैं कि सुनियोजित तरीके से यह घटना की गई है। ऐसा आरोप है कि स्कूटी सवार चचेरे भाईयों का नईगढ़ी जनपद में पदस्थ इंजीनियर हरीश शर्मा से कुछ दिन पूर्व ही विवाद हुआ है। ऐसा बताया जा रहा है कि अमृत सरोवर योजना के तहत तालाब निर्माण में मशीन आदि का उपयोग किए जाने पर आपत्ति की गई थी। जिसके चलते विवाद चल रहा था।

आमरण अनशन की चेतावनी-

अगस्त क्रांति मंच ने इस घटना की निष्पक्ष कार्रवाई के लिए 23 मई से कलेक्ट्रेट के सामने आमरण अनशन की चेतावनी दी है। संयोजक कुंज बिहारी तिवारी ने कहा कि स्कूटी सवार कमलेश और सोनू को न्याय दिलाने के लिए हर स्तर पर संघर्ष किया जाएगा। उन्होंने इंजीनियर सहित इसमें शामिल अन्य लोगों पर कार्रवाई की मांग की है।
 

खबरें और भी हैं...