दैनिक भास्कर हिंदी: सिंगरौली: शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए होगी आदर्श स्कूल की स्थापना हर जिले में बनेगा आदर्श स्कूल

February 9th, 2021

डिजिटल डेस्क,सिंगरौली। प्रदेश के प्रत्येक जिले में एक आदर्श स्कूल बनेगा, जिसमें बच्चे के सर्वांगीण विकास के लिए हर सुविधा होगी। कक्षा पहली से आठवी के लिए प्रत्येक जिले में एक आदर्श स्कूल बनाया जाएगा। जिसमें प्री-स्कूल के लिए आंगनवाड़ी केन्द्र भी होगा।

एक शाला एक परिसर के काँसेप्ट पर आधारित आदर्श विद्यालय में कक्षा पहली से लेकर 12वीं तक सभी शालाएं होगी। साथ ही क्लास रूम के अलावा, प्ले ग्राउंड, लायब्रोरी, प्ले रूम, आर्ट एंड क्राप्ट रूम, संगीत कक्ष, योग कक्ष, आईटी रूम, स्मार्ट क्लासेस, मल्टी मीडिया जोन, डिजिटल ब्लेक बोर्ड, सुसज्जित एकीकृत प्रयोग शाला, आगंतुक एवं पालकों के लिए वेटिंग रूम, विद्यार्थियों के लिए सर्वसुविधायुक्त शौचालय सहित समुचित फिजिकल इंफ्रास्ट्रक्चर होगा। आदर्श विद्यालय में ललित कला एवं आर्ट को एक महत्वपूर्ण विषय के रूप में शामिल किया जाएगा। जिससे बच्चे के अंदर छिपी प्रतिभा उभरे साथ ही उसमें टीम वर्क के साथ ही सहनशीलता एवं सहिष्णुता के गुण उत्पन्न हो।

एक शाला एक परिसर की अवधारणा से शिक्षकों का युक्तियुक्तकरण होने के साथ ही प्री-प्रायमरी का बच्चा प्रारंभ से ही स्कूल के परिसर एवं गतिविधियों से परिचित हो जाता है जिससे बड़ा होकर अपनी रूचि से ही स्कूल जाता है एवं स्कूल की गतिविधियों में भाग लेता है। आदर्श विद्यालय को यथाशीघ्र मूर्त रूप देने के लिए प्रत्येक जिले में ऐसे स्कूलों का चयन किया जा रहा है जहाँ पर्याप्त स्थान एवं अधोसरंचना विकास की पर्याप्त संभावना हो।