अमरावती: एसीपी कार्यालय से चोरी हुआ गेट मिला डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर

May 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, अमरावती । कड़बी बाजार परिसर में पहले गाडगे नगर परिक्षेत्र का एसीपी कार्यालय था जो तीन वर्ष से बंद है। कार्यालय का एक लोहे का मुख्य गेट है। इस गेट का आधा हिस्सा अज्ञात चोरों ने चुरा लिया। मंगलवार 24 मई की सुबह कड़बी बाजार परिसर में बंदोबस्त में गए नागपुरी गेट के थानेदार मेश्राम के यह बात ध्यान में आई। उन्होंने जवानों को चोरी गए गेट को खोजने के निर्देश दिए।  जवानों ने अासपास देखा तो बंद पड़े एसीपी कार्यालय से लगभग 150 मीटर की दूर एक टूटे-फूटे कमरे में चोर इस गेट को छोड़कर भाग गए थे। इस चोरी की घटना के बाद गेट मिल जाने से पुलिस की साख लगा धब्बा मिट गया।

जानकारी के अनुसार कड़बी बाजार परिसर इतवारा बाजार से सटा है और संवेदनशील क्षेत्र माना जाता है। इससे वर्ष 1925 से कड़बी बाजार में स्थित पुलिस विभाग की अपनी जगह पर पुलिस चौकी बनाई थी। बाद में इसी पुलिस चौकी की जगह पर गाडगे नगर जोन के सहायक पुलिस आयुक्त का कार्यालय बनाया गया था। जहां गाडगे नगर जाेन के पुलिस थाने मेंं दर्ज प्रतिबंधात्मक व अदखल पात्र मामलों पर सुनवाई होती थी।  यह कार्यालय पांच वर्ष पहले अन्य जगह स्थानांतरित किया गया। जिससे इस पुराने एसीपी कार्यालय को ताला लगा था। किंतु सुरक्षा की दृष्टि से उसे सुरक्षा दीवार बनाकर लोहे का गेट लगा था। मंगलवार 24 मई को सुबह कड़बी बाजार परिसर का अतिक्रमण हटाने के लिए पुलिस का बंदोबस्त तैनात किया गया था। इस कारण नागपुरी गेट के थानेदार मेश्राम भी बंदोबस्त के लिए कड़बी बाजार पहुंचे। बंद पड़े एसीपी कार्यालय का लोहे का गेट चोेरी होने की बात उनके ध्यान में आई। पीआई मेश्राम ने चोरी गए गेट को तलाश करने के निर्देश जवानों को दिए। छानबीन के दौरान गेट बंद पड़े एसीपी कार्यालय के करीब टूटे-फूटे मकान में फेंककर चोर भाग गए।