comScore

एनसीएल का नेहरू अस्पताल में होगी मेडिकल की सुपर स्पेशियलिटी स्टडी, एनबीई ने दी मान्यता

एनसीएल का नेहरू अस्पताल में होगी मेडिकल की सुपर स्पेशियलिटी स्टडी, एनबीई ने दी मान्यता

डिजिटल डेस्क,सिंगरौली (मोरवा)। एनसीएल का नेहरू अस्पताल अब उच्च शिक्षण और रिसर्च का केन्द्र बनेगा। नेशनल बोर्ड ऑफ इक्जामिनेशन ने नेहरू शताब्दी चिकित्सालय को दो सीट आवंटित की हैं। एनएससी को डिप्लोमेट ऑफ नेशनल बोर्ड के द्वारा पोस्ट एमडी डीएनबी इन मेडिसिन, एनेस्थिसियोलॉजी और चेस्ट  मेडिसिन एनईईटी ने जिस कैंडीडेट के द्वारा क्वालीफाई कर लिया है वे नेहरू अस्पताल में डीएनबी क्रिटिकल केयर के लिए एडमीशन लेंगे। नेहरू अस्पताल में इसे जुलाई 2019 प्रवेश सत्र के लिये नीट सुपर स्पेशलिटीज काउंसिलिंग के दूसरे दौर के लिए किया जायेगा, जो मेडिकल काउंसिलिंग कमेटी, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा आयोजित की जा रही है। ऑल इंडिया बेसिस पर आयोजित हो रही इस परीक्षा को पास करने के उपरांत ही यहां पर एडमिशन मिल सकेगा। तीन वर्ष तक रिसर्च करते हुए चिकित्सक अपनी थीसिस तैयार करेंगे। इसका अवलोकन एनबीई के द्वारा किया जायेगा और सफल होने पर उन्हें डीएनबी एमडी डिग्री धारक माना जायेगा।

एमपी का तीसरा अस्पताल होगा एनएससी

खास बात यह है कि डीएनबी एमडी का कोर्स कराने वाला एनएससी प्रदेश का तीसरा अस्पताल होगा। इससे पहले इंदौर के चौइथराम हॉस्पिटल में दो और  जबलपुर के सिटी हॉस्पिटल में दो सीटों का आवंटन हो चुका है। नेहरू अस्पताल में 5 वें और 6 वें कैंडीडेट को इस कोर्स को करने का मौका मिलेगा। जहां पर सुपर स्पेशियलिटी शिक्षण की व्यवस्था होगी।

मिलेगा यह भी फायदा

इस सौगात का फायदा यह होग कि यहां पर इस प्रकार के कोर्स संचालित होने से अनुभवी और योग्य दो चिकित्सक तीन वर्षों तक मौजूद रहेंगे। जो गहन चिकित्सा के क्षेत्र में कार्य करते हुए अपनी थीसिस तैयार करेंगे। यह एनसीएल ही नहीं बल्कि कोल इंडिया और सिंगरौली जिले के लिये भी गौरव का विषय होगा। सिंगरौलीवासियों के लिये भी यह काफी फायदेमंद साबित होगी। बताया जा रहा है कि इस कोर्स के लिये एनसीएल के उच्च प्रबंधन के द्वारा किये गये सार्थक प्रयासों का परिणाम बताया जा रहा है।

कमेंट करें
tUVrC