• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • The fraudster arrested in the name of Lokayukta - 50 thousand was demanded from the Panchayat Secretary

दैनिक भास्कर हिंदी: लोकायुक्त के नाम पर ठगी करने वाला गिरफ्तार - पंचायत सचिव से मांगे थे 50 हजार 

October 30th, 2019

डिजिटल डेस्क रीवा । लोकायुक्त के नाम पर ठगी करने वाला एक युवक पकड़ा गया है। इस युवक को लोकायुक्त की टीम ने सिरमौर चौराहा क्षेत्र से उस समय पकड़ा जब वह पंचायत सचिव के पति को बुलाकर शिकायत का भय दिखाकर 50 हजार रूपए की मांग कर रहा था। लोकायुक्त के नाम पर ठगी करने वाला यह युवक जवा थाना क्षेत्र के अकौरी गांव का रहने वाला है। संजय मिश्रा नामक इस ठग के बारे में पहले भी कई जानकारियां लोकायुक्त पुलिस तक पहुंची लेकिन  पुख्ता प्रमाण और शिकायत के अभाव में अब तक वह बचता रहा। ग्राम पंचायत कनौजा की सचिव विजय लक्ष्मी पाण्डेय को इस शख्स ने फोन लगाकर यह बताया कि लोकायुक्त में अनियमितता की शिकायत आई है। इस शिकायत के निराकरण के लिए मुलाकात की जाए। इस ठग ने यह कहने के साथ ही पंचायत सचिव से कहा कि अपने पति को भेज देना। बताते हैं कि पंचायत सचिव के पति शैलेश पाण्डेय से भी फोन में इस ठग ने बात की। शैलेश को संदेह हुआ और वह सीधे लोकायुक्त कार्यालय पहुंच गया जहां जाने के बाद पता चला कि यह सब फर्जीबाड़ा है। लोकायुक्त एसपी ने इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए इस जालसाज को रंगे हाथ पकडऩे के लिए योजना तैयार की आज वह पकड़ा गया। लोकायुक्त की टीम ने इसे पकडऩे के बाद पूछताछ की और फिर सिविल लाइन पुलिस के सुपुर्द कर दिया। जिस पर अब सिविल लाइन पुलिस कार्यवाही करेगी। 
प्रतिमा स्थल के पास बुलाया
लोकायुक्त के नाम पर ठगी करने वाले इस व्यक्ति ने पंचायत सचिव के पति को सिरमौर चौराहा स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा स्थल के समीप बुलाया था। पंचायत सचिव के पति सरपंच को साथ लेकर पहुंचे। जहां फोन लगाने पर लोकायुक्त के नाम पर ठगी करने वाले इस व्यक्ति ने कहा कि तुम्हारे साथ सरपंच भी है, उसे अलग करो। इसके साथ ही यह कहा कि सिरमौर चौराहा स्थित ट्रैफिक पुलिस चौकी के पीछे होटल में आओ। इसके बाद पंचायत सचिव के पति होटल में पहुंचे जहां दोनों के बीच चर्चाएं शुरू हुईं। जहां यह जालसाज रंगे हाथ पकड़ा गया। 
इनका कहना है
 ऐसी जानकारी मिली कि लोकायुक्त के नाम पर एक व्यक्ति द्वारा लोगों से ठगी की जा रही है। यह शिकायत मिलते ही आरोपी को लोकायुक्त की टीम ने रंगेहाथ पकड़ा है। आरोपी को कार्यवाही के लिए सिविल लाइन पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है। ।""
राजेन्द्र वर्मा, एसपी लोकायुक्त