comScore

टाइगर रिजर्व में तीन शिकारी जाल सहित गिरफ्तार, बड़े शिकार की तलाश में घूम रहे थे 

टाइगर रिजर्व में तीन शिकारी जाल सहित गिरफ्तार, बड़े शिकार की तलाश में घूम रहे थे 

डिजिटल डेस्क,छतरपुर। क्षेत्र संचालक पन्ना टाइगर रिजर्व के परिक्षेत्र किशनगढ़- मडिया के बफर जोन अंतर्गत तीन शिकारी पकड़े गए हैं। ये शिकारी जाल लेकर जंगली जानवरों के शिकार की फिराक में घूम रहे थे। जैसे ही वन विभाग की टीम ने इनसे पूछताछ की तो इन्होंने शिकार करने के उद्देश्य से जंगल में आना बताया। इन्होंने भागने का भी प्रयास भी  किया। वन विभाग की टीम ने इन्हें पकड़कर वन अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए किशनगढ़ थाना पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया यहां से इन्हें जेल भेज दिया गया।

आरोपियों को जेल भेज दिया गया

पन्ना नेशनल पार्क के अधिकारियों ने बताया कि किशनगढ़- मडिय़ा रेंज के अंतर्गत पीपर चौक बीट गार्ड ऋषि पटैरिया, जैतपुर बीट गार्ड चौबे लाल जाटव और सुरक्षा श्रमिकों के साथ सामूहिक वन गश्ती के दौरान कुछ व्यक्ति बीट पटना में मोटर साइकिल में जंगली जानवरों को जाल में फंसाकर मारने का जाल लेकर खड़े थे। वन अमले को आता देखकर वे तीनों वहां से मोटर साइकिल लेकर भागने लगे। वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा पीछा करने पर करन सिंह पिता रूप सिंह घोष निवासी बंधिया थाना बमीठा तहसील राजनगर, बाबू कुशवाहा पिता हर प्रसाद कुशवाहा और राम सिंह पिता प्राण सिंह खंगार दोनों निवासी हटवाहा थाना खजुराहो तहसील राजनगर को रोककर तलाशी के दौरान 03 नग बड़े रेशम के बने जंगली जानवरों को फंसाकर मारने का जाल जब्त किया गया। उन्होंने बताया कि तीनों के विरूद्ध वन अपराध प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। आरोपियों को सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया। तीनों आरोपियों ने अपने बयानों में पूर्व में बमीठा एवं आसपास के वन क्षेत्रों में शिकार करने एवं शिकार के प्रयास की भी बात कही है। 

बंद ग्रेनाइट खदान में भरे पानी में बच्चा डूबा

क्षेत्र के मढ़वा गांव में स्थित एपीएस मिनरल्स की ग्रेनाइट खदान में भरे पानी में डूबने से एक 9 वर्षीय बालक की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि सोमवार की सुबह 7 बजे के करीब खदान में स्थित गहरे गड्ढे में भरे पानी में मासूम का शव उतराते हुए गांव के लोगों ने देखा। मृतक का नाम करन अहिरवार पिता नाथूराम अहिरवार है। मासूम रविवार की शाम से गायब था। बताया जा रहा है कि ग्रेनाइट खदान में पत्थर निकालने के लिए  बड़े- बड़े गड्?ढे खोदे गए। अब उनमे पानी भरा है। गांव के लोगों का कहना है कि ग्रेनाइट खदान अभी बंद है, लेकिन उसकी सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए गए है।

कमेंट करें
8rOhP