दैनिक भास्कर हिंदी: 7 साल की बच्ची के साथ दो नाबालिगों ने किया दुष्कृत्य , हालत गंभीर

June 12th, 2019

डिजिटल डेस्क, सिंगरौली (वैढन)। सिंगरौली में एक 7 वर्षीय अबोध बालिका दरिंदगी का शिकार हो गयी। सरई थाना क्षेत्रांर्तगत महरैल गांव में एक आदिवासी परिवार की बालिका के साथ गांव के ही दो नाबालिक किशोरों ने दुराचार किया। पीड़ित बालिका को रक्तस्त्राव होने पर परिजनों ने स्थानीय सरई सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया जहां पर दुष्कर्म की जानकारी सामने आई। पुलिस को सूचना मिलने पर बच्ची को आनन फानन जिला अस्तपाल वैढन लाया गया। जहां पर बुधवार की सुबह चिकित्सकों की एक टीम ने बालिका का मेडिकल परीक्षण किया और दुष्कृत्य किये जाने की पुष्टि की है।  दोपहर बाद उसे बेहतर उपचार के लिये एनसीएल के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय जयंत में भर्ती कराया गया।

बहन के साथ नहाने गई था पीड़िता

पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन ने बताया कि सरई थाना क्षेत्र के महरैल गांव के नाले  में मंगलवार की शाम यह घटना हुई है। उस समय पीड़िता अपनी बड़ी बहन और एक अन्य के साथ नाले में नहाने गई हुई थी। इसी दौरान गांव के ही 14 और 15 वर्ष के दो किशोरों ने बच्ची के साथ दुष्कृत्य किया। वारदात के बाद दोनों किशोर फरार हो गये। पीड़िता को लगातार रक्तस्त्राव होने पर उनके माता पिता ने सरई स्थित शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचित किया। 

बचती रही पुलिस

मंगलवार की शाम हुए इस सनसनीखेज मामले पर देर रात तक सरई पुलिस चुप्पी साधे रही। लेकिन जब पीड़िता की हालत  बिगड़ी तो उसके परिजनों के साथ बच्ची को लेकर जिला अस्पताल पहुंची। पूरी रात पुलिस बच्ची के उपचार के लिये अस्पताल में बैठी रही लेकिन जब  चिकित्सीय स्टाफ ने बच्ची के साथ दुष्कृत्य किए जाने और मेडिकल परीक्षण कराये जाने के  लिये कहा तो मामला सामने आया। इसके बावजूद पुलिस कुछ भी कहने से बचती रही।

एसपी सहित पुलिस बल पहुंचा महरैल

7 वर्षीय बालिका के साथ हुए दुष्कृत्य के इस जघन्य अपराध की जांच के लिये बुधवार को पुलिस अधीक्षक अभिजीत कुमार रंजन,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेण्डे,वैढऩ थाना टीआई मनीष त्रिपाठी सरई थाने पहुंचे। एसडीओपर व थाना प्रभारी श्रीनाथ झरबड़े के साथ पुलिस बल घटना स्थल की ओर रवाना हुआ। पुलिस अधिकारियों ने घटना स्थल का निरीक्षण करने के उपरांत फिर परिजनों से बातचीत की।

सरई में दर्ज हुआ दुष्कृत्य व पाक्सो एक्ट के तहत मामला

उपचार के दौरान वैढन में जीरों पर मामला दर्ज किया था। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए सरई थाने में दो नाबालिग आरोपियों के विरूद्ध दुष्कृत्य व पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है। बताया जाता है कि घटना की पुष्टि होने के उपरांत दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों से घंटो पूछताछ की गई। 

इनका कहना है

बच्ची की हालत स्टेबल है,ऐतिहात के तौर पर उसे नेहरू अस्पताल भेज दिया गया है। परिजनों को प्रशासन की तरफ से कुछ राहत राशि भी दी गई है। दोनों आरोपी 14-15 वर्षीय ट्राइबल है और महरैल गांव के ही है। उन्हें हिरासत में ले लिया गया है। जिन पर आईपीसी की धारा 376 और पाक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है।
-अभिजीत कुमार रंजन, एसपी सिंगरौली