comScore

हत्या के आरोपी ने घर पर पुलिस को देखा तो अंदर जाकर खा लिया जहर

हत्या के आरोपी ने घर पर पुलिस को देखा तो अंदर जाकर खा लिया जहर

डिजिटल डेस्क छतरपुर । बमीठा थाना क्षेत्र के सतना का पुरवा निवासी एक युवक को पकडऩे जब पुलिस उसके घर गई तो युवक ने पुलिस को देख कर जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। युवक अनिल रजक द्वारा जहरीले पदार्थ का सेवन किए जाने के बाद आनन-फानन में पुलिस उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर पहुंची। जहां से उसे इलाज के लिए झांसी रैफर कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि अनिल रजक पर बरेठी निवासी विष्णु राजा की हत्या का मामला दर्ज है। 
पुलिस ने बताया कि साल 2018 में विष्णु राजा का शव सड़क के किनारे संदिग्ध अवस्था में मिला था। उस समय सड़क हादसे का मामला सामने आया था। पुलिस का कहना है कि विष्णु राजा के कपड़ों की जांच कराने के लिए एफएसएल सागर भेजा गया। जहां से रिपोर्ट आई कि विष्णु राजा की मौत नुकीले धारदार हथियारों से की गई है। उसके जननांग में भी घाव मिले थे।  उसी के बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरु की तो पता चला कि हत्या अनिल रजक और उसके भाई ने की है। बुधवार शाम 6 बजे जब पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने उसके घर पहुंची तो वह पुलिस को देख कर घर के अंदर गया और किसी जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया।
अवैध संबधों के चलते हत्या करने की बात आ रही सामने
बमीठा थाना प्रभारी जसवंत सिंह राजपूत का कहना है कि भोपाल से आई रिपोर्ट के बाद जब स्पष्ट हो गया कि विष्णु राजा की हत्या की गई है। तो उसके बाद मामले की जांच शुरु की गई। जांच में घटना दिनांक के दिन मौजूद कुछ गवाहों ने बताया कि विष्णु राजा की हत्या अनिल और उसके परिजनों द्वारा की गई है। पुलिस का कहना है कि विष्णु राजा के अनिल के घर की किसी महिला से अवैध संबध थे। इसकी जानकरी जब अनिल को लगी तो उसने विष्णु राजा की हत्या का प्लान तैयार किया और जिस दिन विष्णु राजा बाइक से कहीं जा रहा था। उसी दिन अनिल ने उसकी हत्या कर दी थी।
केस दर्ज होने के बाद आरोपी पुलिस पर बना रहा है दबाव
इस मामले में एसपी तिलक सिंह का कहना है कि गवाहों के बयान और जांच रिपोर्ट आने के बाद अनिल के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। उनका कहना है कि आरोपी पुलिस पर दबाव बनाने के लिए इस तरह की हरकतें कर रहा है। उनका कहना है कि किसी जहरीले पदार्थ का सेवन अनिल ने कर लिया है। लेकिन सुरक्षा और एहतियात के तौर पर उसे इलाज के लिए झांसी भेजा गया है।
 

कमेंट करें
b5iln