दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर-शिर्डी राजमार्ग का कार्य 1 मई से : ठाकरे

December 12th, 2020

डिजिटल डेस्क, औरंगाबाद । कोरोना संकट काल से उबरने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को शहर के गरवारे स्टेडियम परिसर में 1680 करोड़ की जलापूर्ति योजना समेत चार विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने विपक्ष का नाम लिए बगैर कहा कि कोरोना काल में लोगों ने हम पर घर में बैठे रहने का आरोप लगाया, लेकिन हमने घर बैठ कर भी काम किया। महामारी का मुकाबला करते हुए विकास कामों को जारी रखा और इसी का परिणाम है कि आज औरंगाबाद में सूबे की सबसे बड़ी जलापूर्ति योजना की शुरूआत हो रही है। उन्होंने आश्वस्त किया कि शिर्डी राजमार्ग का कार्य1 मई 2021 से शुरू होगा।

कोरोना संकट के कारण करीब 300 लोगों की मौजूदगी में सभा में मुख्यमंत्री ठाकरे ने जलापूर्ति योजना के साथ-साथ 174 करोड़ के जंगल सफारी पार्क, 152 करोड़ की 23 सड़कें और 25 करोड़ के ठाकरे स्मृतिवन के कार्याें का स्टेज पर रिमोट दबाकर आभासीय भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री का भाषण सुनने व देखने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में करीब 70 स्क्रीन स्टेज लगाए गए थे। वर्ष 2052 तक शहर की संभावित आबादी 33 लाख को ध्यान रखकर बनाई गई परियोजना तीन सालों में पूर्ण की जाएगी। परियोजना का कार्य साकार होने पर प्रति व्यक्ति प्रति दिन 135 लीटर पानी उपलब्ध कराया जाएगा। महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण के हाथ में यह परियोजना दी गई है। अपने भाषण में मुख्यमंत्री ने कोरोना संकट से बचने की गई उपाय योजनाओं को दुरुस्त बताया।

औरंगाबाद से भावनात्मक संबंध बताते हुए कहा कि बालासाहब ठाकरे का औरंगाबाद वासियों से एवं यहां के लोगों का गहरा लगाव रहा है। हम उस रिश्ते को बखूबी निभाएंगे। उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री सवा एक बजे यहां पहुंचे। उनके साथ पेयजल आपूर्ति मंत्री गुलाबराव पाटील, नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे, उद्योग व जिले के पालकमंत्री सुभाष देसाई, रोगायो मंत्री संदीपान भूमरे, राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार के अलावा विधायक प्रदीप जायसवाल,  अंबादास दानवे, संजय शिरसाठ, सतीश चव्हाण, हरिभाऊ बागड़े, पूर्व महापौर नंदकुमार घोड़ेले, संभागीय आयुक्त सुनील केंद्रेकर,जिलाधिकारी सुनील चव्हाण, मनपा आयुक्त आस्तिक कुमार पांडेय, पुलिस आयुक्त निखिल गुप्ता और अतिथिगण मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...