दैनिक भास्कर हिंदी: माल्या ने सरकार से कर्ज चुकाने की पेशकश स्वीकारने, मामला बंद करने की अपील की

May 14th, 2020

हाईलाइट

  • माल्या ने सरकार से कर्ज चुकाने की पेशकश स्वीकारने, मामला बंद करने की अपील की

नई दिल्ली, 14 मई (आईएएनएस)। भगोड़े भारतीय व्यवसायी विजय माल्या ने गुरुवार को केंद्र सरकार से बैंक कर्ज चुकाने के उनके प्रस्ताव को बिना शर्त स्वीकार करने और उनके खिलाफ मामला बंद करने का आग्रह किया।

एक ट्वीट में, शराब कारोबारी ने उनके 100 प्रतिशत कर्ज चुकाने के प्रस्ताव की अनदेखी करने का आरोप लगाया।

माल्या ने ट्वीट किया, कोविड -19 राहत पैकेज के लिए सरकार को बधाई। जितना चाहे उतना नोट छाप सकते है लेकिन क्या मेरे जैसा छोटे योगदानकर्ता की अनदेखी करनी चाहिए जो सरकारी स्वामित्व वाले बैंक से लिए कर्ज को 100 प्रतिशत चुकाना चाहता है? कृपया मेरा पैसा ले लीजिए और मामेल को बंद कर दें।

माल्या ब्रिटेन में एक कानूनी लड़ाई के बीच है, जिसमें भारत सरकार उन्हें 9,000 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में प्रवर्तन अधिकारियों का सामना करने के लिए भारत को प्रत्यर्पित कराने की कोशिश कर रही है।

इससे पहले भी, माल्या ने ट्वीट किया था कि उन्होंने किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा संबंधित बैंकों से उधार लिए गए धन का पूरा भुगतान करने की पेशकश की थी, लेकिन न तो बैंक पैसे लेने के लिए तैयार थे और न ही प्रवर्तन निदेशालय उनकी जब्त संपत्ति को रिलिज करने के लिए तैयार था।

ईडी ने पिछले कुछ वर्षों में धन शोधन निवारण अधिनियम के तहत माल्या की कई संपत्तियों को जब्त किया है।

सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय द्वारा ऋण धोखाधड़ी मामले के संबंध में माल्या जांच का सामना कर रहे हैं।

उन्हें भारतीय जांच एजेंसियों के अनुरोध पर 20 अप्रैल, 2017 को ब्रिटेन के अधिकारियों द्वारा गिरफ्तार किया गया था।