comScore

Holi 2020: होली पर इन आसान तरीकों से घर पर बनाएं हर्बल कलर्स

Holi 2020: होली पर इन आसान तरीकों से घर पर बनाएं हर्बल कलर्स

हाईलाइट

  • रंगों का त्यौहार होली इस साल 10 मार्च को मनाया जाएगा
  • इन आसान तरीकों से घर पर बनाएं हर्बल कलर्स

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रंगों का त्यौहार होली इस साल 10 मार्च को मनाया जाएगा। इसकी तैयारी बाजार में देखने को मिलने लगी है। होली के इस त्यौहार में रंगों की अहम भूमिका होती है। वहीं कई तरह के चटखिले रंग मार्केट में मिलते हैं। जो कई तरह के केमिकलों और मिलावट से बनाएं जाते हैं। ऐसे में इन रंगों का दुष्प्रभाव त्वचा पर देखने को मिलता है। अगर होली पर आप ऐसे ही मिलावटी रंगों से बचना चाहते हैं, तो हम आपको बता रहे हैं ऐसे तरीके जिस्से आप आसानी से घर पर ही हर्बल कलर्स तैयार कर सकते हैं, आइए जानते हैं इसके बारे में...

होली पर घर पर बनाएं हर्बल कलर्स -

  • जामुनी रंग तैयार करने के लिए चुकंदर को पीसकर, इसे छानकर पानी मिलाएं और इसे भि‍गोर रख दें। कुछ समय बाद यह गहरा जामुनी रंग देगा, जिसका इस्तेमाल आप होली खेलने के लिए कर सकते हैं। इसके अलावा पोंई के छोटे-छोटे फलों से भी यह रंग बनाया जा सकता है।
  • पलाश या टेसू के फूलों को भि‍गोर या उबालकर केसरिया रंग तैयार किया जा सकता है। सूखा रंग बनाने के लिए इन्हें अच्छी तरह से सुखा लें और अरारोट या चिकना आटा मिलाकर रंग तैयार करें। केसर की कुछ पत्त‍ियों को पानी के साथ पेस्ट बनाकर रखें और बाद में ज्यादा पानी में घोल दें। इससे भी केसरिया रंग तैयार होगा। 
  • हरा रंग बनाने के लिए पालक या मैथी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे पीसकर या उबालकर गीला रंग और इसके पेस्ट को सुखाकर अरारोट या चावल के आटे के साथ पाउडर वाला सूखा रंग आसानी से बनाया जा सकता है। आप चाहें तो गेहूं के जवारों से भी हरा रंग बना सकते हैं।
  • नीला गुलाब, जकरांदा के फूलों को सुखाकर नीला रंग तैयार किया जा सकता है। वहीं इन्हें उबालकर या पीसकर आप गीले रंग भी आसानी से बना सकते हैं।
  • काला रंग तैयार करने के लिए काले अंगूर के जूस को पानी में मिलाकर रंग बनाएं। इसके अलावा गहरा या कत्थई रंग तैयार करने के लिए हल्दी पाउडर और बेकिंग सोडा को मिलाकर रंग बनाया जा सकता है।
  • चुकंदर को काटकर या किसकर सुखा लें और बाद में इसे पीसकर अरारोट, मैदा या चावल का आटा मिलाकर लाल रंग तैयार करें। गुलाब की पत्त‍ियों को सुखाकर इसे पीसकर इसमें चंदन पाउडर, चावल का आटा मिलाकर भी लाल रंग तैयार किया जा सकता है। चाहें तो हल्दी और चुकंदर को मिलाकर लाल रंग बनाएं। इसके अलावा अनार के दानों को पानी में उबालकर भी लाल रंग बनाया जा सकता है।
  • पीला रंग तैयार करने के लिए हल्दी सबसे बेहतर है और त्वचा के लिए फायदेमंद भी। आप इसके गीले और सूखे दोनों रंग तैयार कर सकते हैं। चाहें तो इसमें बेसन या फिर चंदन पाउडर भी मिला लें। गेंदे के फूलों को उबालकर या पीसकर भी पीला-नारंगी रंग तैयार किया जा सकता है।

हर्बल कलर्स के फायदे

  • हर्बल कलर्स से होली खेलने पर त्वचा पर किसी भी तरह का कोई भी रिएक्शन नहीं होता।
  • ये रंग इतने सॉफ्ट होते है कि थोड़ी देर बाद कपड़ों पर से भी उड़ जाते है, नतीजतन इससे कपड़े भी खराब नहीं होते। 
  • रंग प्राकृतिक होते है और ये बिना साबुन के प्रयोग के सिर्फ पानी से धो लेने से भी तुरंत साफ हो जाते है। 
  • रंगों को कोई दुष्प्रभाव नहीं होता तो रिश्तों में भी किसी तरह की कोई खटास नहीं आती। 
कमेंट करें
3F2Bu