comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

TV: Nokia ने भारत में लॉन्च किया 43 इंच स्मार्ट टीवी, इसमें है JBL ऑडियो और डॉल्बी विजन का सपोर्ट

TV: Nokia ने भारत में लॉन्च किया 43 इंच स्मार्ट टीवी, इसमें है JBL ऑडियो और डॉल्बी विजन का सपोर्ट

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Nokia (नोकिया) ने भारतीय बाजार में आज अपने 43 इंच स्मार्ट टीवी को लॉन्च कर दिया है। एंड्राइड 9.0 ओएस पर आधारित नोकिया की इस 4K LED UHD TV में डॉल्बी साउंड का सपोर्ट भी मिलता है। इसके अलावा इसमें इन-बिल्ट क्रोम कास्ट की सुविधा दी गई है। नोकिया स्मार्ट टीवी की कीमत 31,999 रुपए रखी गई है। ई- कॉमर्स साइड फ्लिपकार्ट पर यह टीवी एक्सक्लूसिव तौर पर 8 जून दोपहर 12 बजे से बिक्री के लिए उपलब्ध होगा। 

बता दें कि इस टीवी को लेकर लंबे समय से खबरें सामने आ रही थीं। वहीं मार्च 2020 से फ्लिपकार्ट पर इस टीवी को टीज किया जा रहा था। लेकिन लॉकडाउन के चलते इस टीवी की लॉन्च में देरी हुई। आइए जानते हैं इसकी खासियत...

TUF/ROG laptop: Asus ने भारत में लॉन्च किए गेमिंग लैपटॉप और डेस्कटॉप, जानें कीमत

ऑफर्स
Nokia Smart TV 43 इंच पर कंपनी द्वारा को एक साल स्टैंडर्ड वारंटी दी जा रही है। यह वारंटी डोरस्टेप है यानि कि ग्राहक सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक कॉल सेंटर में कॉल के लिए सर्विस प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा टीवी के साथ कम्प्लीट प्रोटेक्शन भी खरीदा जा सकता है। जिसमें दो साल की एडिशनल वारंटी मिलेगी। 

स्पे​सिफिकेशन्स और फीचर्स
Nokia Smart TV में 60Hz रिफ्रेश रेट वाला 43 इंच का 4K LED डिस्प्ले दिया गया है। यह डिस्प्ले 3840×2160 पिक्सल का रेजोल्यूशन देता है।

टीवी में 24-वॉट स्पीकर और DTS ट्रू सराउंड दिया गया है। दमदार साउंड आउटपुट के लिए इसमें JBL ऑडियो और डॉल्बी विजन सपोर्ट भी दिया गया है। इसके साथ ही टीवी में  बेहतर कलर और पिक्चर एक्सिपीरियंस के लिए इसमें 4K UHD सपॉर्ट दिया गया है। 

Acer Swift 3 Notebook भारत में लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स

इस स्मार्ट टीवी में 1 GHz PureX quad-core Cortex A53 प्रोसेसर दिया गया है। वहीं ग्राफिक्स के लिए इसमें Mali 450MP4 जीपीयू मिलता है। इस टीवी में 2.25GB रैम और 16GB इंटरनल स्टोरेज दी गई है। कनेक्टिविटी के लिए इसमें वाई-फाई, ब्लूटूथ 5.0 और 3x HDMI सपोर्ट दिया गया है। 

एंड्राइड 9.0 ओएस पर आधारित इस टीवी में बिल्ट इन क्रोम कास्ट सपोर्ट और Google Play Store की सुविधा दी गई है। इसमें ग्राहक अपनी पसंद के गेम्स और ऐप्स डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें Netflix, Amazon Prime Video, Disney+ Hotstar, ZEE5 और YouTube आदि ऐप्स को एक्सेस किया जा सकता है। 

कमेंट करें
BKyO7
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।