comScore

ये हैं 10 हजार रुपए से कम कीमत वाले 5 शानदार स्मार्टफोन, जानें कीमत और खूबियां

ये हैं 10 हजार रुपए से कम कीमत वाले 5 शानदार स्मार्टफोन, जानें कीमत और खूबियां

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। बाजार में आज स्मार्टफोन की भीड़ काफी ज्यादा बढ़ गई है। आए दिन दुनियाभर की कंपनियां एक- दूसरे की होड़ में नए स्मार्टफोन लॉन्च करने में जुटी हुई हैं। हालांकि अधिकांश लेटेस्ट तकनीक वाले स्मार्टफोन की कीमत बजट में ना होने के चलते यूजर्स इन्हें नहीं खरीद पाते। ऐसे में कई कंपनियां 10,000 से कम कीमत में ऐसे स्मार्टफोन उपलब्ध करा रही हैं, जिनमें शानदार कैमरा और ​फीचर्स मिलते हैं।

भारतीय बाजार में ऐसे कई स्मार्टफोन मौजूद हैं, जो लुक और फीचर्स में कम नहीं हैं। वहीं इनकी कीमत भी कम है यानी कि आप अपनी जेब के बजट के हिसाब से यदि 10 हजार रुपए से कम कीमत का फोन खरीदना चाहते हैं तो आसानी से उपलब्ध हैं। आइए जानते हैं ऐसे 5 स्मार्टफोन के बारे में...

Samsung Galaxy F62 भारत में लॉन्च, इसमें है 7000mAh की पावरफुल बैटरी

Redmi 9 Prime 
Redmi 9 Prime स्मार्टफोन में 6.53-इंच FHD+ IPS LCD डिस्प्ले दी गई है, जो कि वाटरड्रॉप-स्टाइल के साथ आती है। यह फोन मीडियाटेक हीलियो G80 प्रोसेसर से लैस है। रेडमी 9 प्राइम स्मार्टफोन में फोटोग्राफी के लिए रियर में चार कैमरे दिए गए हैं। जिसमें अल्ट्रा-वाइड-एंगल शूटर शामिल है। सेल्फी के लिए फोन में 8 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया। 

इसमें 4GB रैम और 64GB स्टोरेज दी गई है। जिसमें माइक्रो एसडी कार्ड सपोर्ट 512GB तक मिलेगा। पावर के लिए फोन में 5,020 mAh की बैटरी दी गई है। यह 18W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आती है। इस फोन को 9,999 रुपए की कीमत में अमेजन से खरीदा जा सकता है। 
Image result for Redmi 9 Prime 

Poco M2
पोको एम 2 में 9,999 रुपए की शुरुआती कीमत में खरीदा जा सकता है। इस फोन में 6.53-इंच की FHD + IPS LCD स्क्रीन दी गई है। यह फोन मीडियाटेक हेलियो G 80 चिपसेट से लैस है। 6GB रैम और 64GB स्टोरेज दी गई है। 

फोटोग्राफी के लिए इस फोन में भी क्वॉड कैमरा सेटअप मिलता है। वहीं सेल्फी के लिए 8 मेगाविक्सल कैमरा दिया गया है। पावर के लिए इस फोन में 18W फास्ट चार्जिंग के साथ 5,000mAh की बैटरी दी गई है।
Poco M2, Poco,

Realme Narzo 20A
Realme Narzo एक बजट गेमिंग- फोन है, जिसमें 6.5 इंच की HD+ स्क्रीन दी गई है। यह फोन क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 665 चिपसेट से लैस हैं। इसमें 3GB और 4GB रैम का विकल्प मिलता है। 4GB/ 64GB वैरिएंट की कीमत 9,499 रुपए है जबकि 3GB/ 32GB वैरिएंट की कीमत 8,499 रुपए है। 

फोटोग्राफी के लिए इस फोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है। सेटअप 30fps पर 4K वीडियो तक रिकॉर्ड करने में सक्षम है। फ्रंट में सेल्फी और वीडियो कॉल के लिए 8MP का कैमरा है। पावर के लिए फोन में 10W चार्जिंग के साथ 5,000mAh की बैटरी दी गई है।
Realme, Realme Narzo 20A 

Zebronics ने भारत में लॉन्च किया Zeb-Juke Bar 9800 Pro साउंडबार

Samsung Galaxy M02s
गैलेक्सी M02s फोन में 6.5 इंच HD+ PLS IPS डिस्प्ले दी गई है। यह फोन क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 450 चिपसेट से लैस है। इसके 3GB/ 32GB वैरिएंट की कीमत 8,999 रुपए और 4GB/ 64GB वैरिएंट की कीमत 9,999 रुपए है। 

फोटोग्राफी के लिए इस फोन में ट्रिपल कैमरा सेटअप दिया गया है। फ्रंट में सेल्फी और वीडियो कॉल के लिए 5MP का मुख्य कैमरा है। पावर के लिए इसमें 15W फास्ट चार्जिंग के लिए 5,000mAh की बैटरी दी गई है। 
Samsung, Samsung Galaxy M02S,

Tecno Spark 6 Air
Tecno Spark 6 Air के 3GB रैम और 64GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 8,699 रुपए है। इस फोन में 7 इंच की डॉट नॉच के साथ HD+ डिस्प्ले दी गई है। फोटोग्राफी के लिए इस फोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है। वहीं सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए इस फोन में 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है।

यह स्मार्टफोन में दी गई स्टोरेज को माइक्रो एसडी कार्ड की मदद से 1TB तक बढ़ाया जा सकता है। बेहतर परफार्मेंस के लिए इस फोन में मीडियाटेक हीलियो A25 SoC ऑक्टा कोर प्रोसेसर दिया गया है। Tecno Spark 6 Air में 6000mAh की पावरफुल बैटरी दी गई है। 
स्मार्टफोन: Tecno Spark 6 Air का नया वेरिएंट भारत में हुआ लॉन्च, जानें कीमत

कमेंट करें
xw37B
NEXT STORY

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। 21वीं सदी में भारत की राजनीति में तेजी से बदल रही हैं। देश की राजनीति में युवाओं की बढ़ती रूचि और अपनी मौलिक प्रतिभा से कई आमूलचूल परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। बदलते और सशक्त होते भारत के लिए यह राजनीतिक बदलाव बेहद महत्वपूर्ण साबित होगा ऐसी उम्मीद हैं।

अलबत्ता हमारी खबरों की दुनिया लगातार कई चहरों से निरंतर संवाद करती हैं। जो सियासत में तरह तरह से काम करते हैं। उनको सार्वजनिक जीवन में हमेशा कसौटी पर कसने की कोशिश में मीडिया रहती हैं।

आज हम बात करने वाले हैं मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस (सोशल मीडिया) प्रभारी व राष्ट्रीय समन्वयक, भारतीय युवा कांग्रेस अभय तिवारी से जो अपने गृह राज्य छत्तीसगढ़ से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखते हैं और छत्तीसगढ़ को बेहतर बनाने के प्रयास के लिए लामबंद हैं।

जैसे क्रिकेट की दुनिया में जो खिलाड़ी बॉलिंग फील्डिंग और बल्लेबाजी में बेहतर होता हैं। उसे ऑलराउंडर कहते हैं अभय तिवारी भी युवा तुर्क होने के साथ साथ अपने संगठन व राजनीती  के ऑल राउंडर हैं। अब आप यूं समझिए कि अभय तिवारी देश और प्रदेश के हर उस मुद्दे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगातार अपना योगदान देते हैं। जिससे प्रदेश और देश में सकारात्मक बदलाव और विकास हो सके।

छत्तीसगढ़ में नक्सल समस्या बहुत पुरानी है. लाल आतंक को खत्म करने के लिए लगातार कोशिशें की जा रही है. बावजूद इसके नक्सल समस्या बरकरार है।  यह भी देखने आया की पूर्व की सरकार की कोशिशों से नक्सलवाद नहीं ख़त्म हुआ परन्तु कांग्रेस पार्टी की भूपेश सरकार के कदम का समर्थन करते हुए भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर अभय तिवारी ने विश्वास जताया है कि कांग्रेस पार्टी की सरकार एक संवेदनशील सरकार है जो लड़ाई में नहीं विश्वास जीतने में भरोसा करती है।  श्री तिवारी ने आगे कहा कि जितने हमारे फोर्स हैं, उसके 10 प्रतिशत से भी कम नक्सली हैं. उनसे लड़ लेना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन विश्वास जीतना बहुत कठिन है. हम लोगों ने 2 साल में बहुत विश्वास जीता है और मुख्यमंत्री के दावों पर विश्वास जताया है कि नक्सलवाद को यही सरकार खत्म कर सकती है।  

बरहाल अभय तिवारी छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बघेल के नक्सलवाद के खात्मे और छत्तीसगढ़ के विकास के संबंध में चलाई जा रही योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं. ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने यह कई बार कहा है कि अगर हथियार छोड़ते हैं नक्सली तो किसी भी मंच पर बातचीत के लिए तैयार है सरकार। वहीं अभय तिवारी  सर्कार के समर्थन में कहा कि नक्सली भारत के संविधान पर विश्वास करें और हथियार छोड़कर संवैधानिक तरीके से बात करें।  कांग्रेस सरकार संवेदनशीलता का परिचय देते हुए हर संभव नक्सलियों को सामाजिक  देने का प्रयास करेगी।  

बीते 6 महीने से ज्यादा लंबे चल रहे किसान आंदोलन में भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से अभय तिवारी की खासी महत्वपूर्ण भूमिका हैं। युवा कांग्रेस के बैनर तले वे लगातार किसानों की मदद के लिए लगे हुए हैं। वहीं मौजूदा वक्त में कोरोना की दूसरी लहर के बाद बिगड़ी स्थितियों में मरीजों को ऑक्सीजन और जरूरी दवाऐं निशुल्क उपलब्ध करवाने से लेकर जरूरतमंद लोगों को राशन की व्यवस्था करना। राजनीति से इतर बेहद जरूरी और मानव जीवन की रक्षा के लिए प्रयासरत हैं।

बहरहाल उम्मीद है कि देश जल्दी करोना से मुक्त होगा और छत्तीसगढ़ जैसा राज्य नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ देगा। देश के बाकी संपन्न और विकासशील राज्यों की सूची में जल्द शामिल होगा। लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब अभय तिवारी जैसे युवा और विजनरी नेता निरंतर रणनीति के साथ काम करेंगे तो जल्द ही छत्तीसगढ़ भी देश के संपन्न राज्यों की सूची में शामिल होगा।