दैनिक भास्कर हिंदी: लाहौर एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किए गए नवाज शरीफ और मरियम, समर्थकों ने की पत्थरबाजी

July 14th, 2018

हाईलाइट

  • पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शुक्रवार को लाहौर पहुंचे।
  • लाहौर एयरपोर्ट पर दोनों को ACB की टीम ने गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है।
  • एवेनफील्ड केस में नवाज को 10 साल और मरियम को 7 साल कैद की सजा सुनाई गई है

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। भ्रष्टाचार के मामले में आरोपी पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज को शुक्रवार रात गिरफ्तार कर लिया गया। लाहौर के अल्लामा इकबाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर  फ्लाइट के लैंड करते ही एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने दोनों को हिरासत में ले लिया। फ्लाइट ने एयरपोर्ट पर करीब 08.45 पर लैंडिग की। इसके आंधे घंटे बाद तकरीबन 09.25 पर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ACB के दर्जनों अधिकारी फ्लाइट के लैंड होते ही प्लेन में चढ़ गए और बाकी पेसैंजर्स को प्लेन से उतरने के लिए कहा। ACB के अधिकारियों के साथ FIA का तीन सदस्यीय दल भी था, जिसनें दोनों के पासपोर्ट जब्त कर लिये। नवाज और मरियम को या तो अब आदिलिया जेल भेजा जाएगा या अतौक जेल भेजा जाएगा।
 


इधर लाहौर में नवाज के समर्थकों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी है। नवाज और मरियम की गिरफ्तारी के विरोध में पूरे लाहौर में प्रदर्शन हो रहे हैं। लाहौर एयरपोर्ट पर उन्हें रिसीव करने के लिए पहुंचे हजारों PML-N कार्यकर्ताओं को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। पूरे लाहौर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

 

 

 

गौरतलब है कि नवाज शरीफ अपनी पत्नी कुलसुम के इलाज के सिलसिले में लंदन गए हुए थे। शुक्रवार यानी आज वो पाकिस्तान वापस लौटे हैं। वापसी से पहले ही उन्होंने एक बयान जारी कर कहा था कि 'मैं अपनी बीमार पत्नी को अल्लाह के भरोसे छोड़कर वतन वापस लौट रहा हूं। मुझे मालूम है कि पाकिस्तान में मुझे सीधा जेल ले जाएंगे लेकिन ये कुर्बानी मैं आवाम के लिए दे रहा हूं।'

 

 

 

अपने वतन वापस लौट रहे 68 वर्षीय नवाज शरीफ ने कहा था कि वह जेल की परवाह किए बगैर लौट रहे हैं। वह इस बात को लेकर दुखी हैं कि वह अपनी बीमार पत्नी को वेंटीलेटर (जीवन रक्षक प्रणाली) पर छोड़ कर जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह वोट को सम्मान देने के वादे को पूरा करने के लिए लौट रहे हैं।

 

 

 



गौरतलब है कि पनामा पेपर लीक के बाद उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे थे। कुछ ही दिन पहले इन्हीं में से तीन मामलों में से एक (एवेनफील्ड संपत्ति मामला) में उन्हें एक भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने 10 साल कैद की सजा सुनाई थी। इस मामले में उनकी बेटी मरियम को भी कोर्ट ने 7 साल जेल की सजा सुनाई थी।