comScore

कोझीकोड दुर्घटना : बचाव मिशन में सबसे आगे रहे सीआईएसएफ के जवान

August 09th, 2020 02:08 IST
कोझीकोड दुर्घटना : बचाव मिशन में सबसे आगे रहे सीआईएसएफ के जवान

हाईलाइट

  • कोझीकोड दुर्घटना : बचाव मिशन में सबसे आगे रहे सीआईएसएफ के जवान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सीआईएसएफ के सहायक उपनिरीक्षक अजीत सिंह और मंगल सिंह ने शुक्रवार शाम कालीकट अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर एयर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद अपनी त्वरित प्रतिक्रिया के साथ कई लोगों की जान बचा ली। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने कहा कि दोनों अधिकारियों ने जल्द प्रतिक्रिया नहीं दी होती तो और अधिक लोगों की जान जा सकती थी।

सीआईएसएफ की ओर से जारी बयान के मुताबिक, एयरपोर्ट के गेट नंबर आठ के करीब स्थित रनवे पर हुए हादसे के दौरान एएसआई मंगल सिंह वहां तैनात थे, उस दौरान एएसआई अजीत सिंह वहां पेट्रोलिंग कर रहे थे। वही जवान दुर्घटना स्थल के सबसे करीब थे, जिन्होंने अपने विवेक से सभी अहम सूचनाएं एटीसी समेत एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) की फायर विंग, सीआईएसएफ के वरिष्ठ अधिकारियों और जिम्मेदार अधिकारियों को दी। सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने सीआईएसएफ के जवानों के प्रयासों की सराहना की है। उनके प्रयासों के लिए उन्होंने उनके लिए एक पुरस्कार की घोषणा भी की है।

उनका संदेश सीआईएसएफ नियंत्रण कक्ष को दिया गया, जिसने एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) टॉवर, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) फायर विंग, सीआईएसएफ के वरिष्ठ अधिकारियों, जिला अधिकारियों और अन्य एजेंसियों को सूचित किया। खबर मिलते ही सीआईएसएफ के करीब 40 जवान, डिप्टी कमांडेंट किशोर कुमार की अगुवाई में दुर्घटनास्थल पहुंचे और भयानक बारिश के बीच फंसे लोगों को बचाने का काम शुरू किया। इसके बाद एयरपोर्ट कर्मियों और स्थानीय पुलिस और अन्य एजेंसियों की टीम बचाव अभियान में शामिल हुई। रात करीब 10 बजे राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन विभाग (एनडीआरएफ) की टीम मौके पर पहुंची, जिसने उन दो मुसाफिरों को बाहर निकाला, जो फ्लाइट की टूटी सीट में फंसे थे।

मूसलाधार बारिश के बावजूद खबर मिलने के बाद ऑफ ड्यूटी सीआईएसएफ जवान भी फौरन अपने साथियों का हाथ बंटाने के लिए बचाव अभियान में शामिल हुए। बचाव अभियान में सीआईएसएफ, दमकल विभाग, जिला प्रशासन, पुलिस की टीम के अलावा एनडीआरएफ भी शामिल थी। जिला चिकित्सा अधिकारियों के अनुसार, हादसे में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है। सीआईएसएफ ने कहा कि जब तक अन्य एजेंसियां दुर्घटनास्थल पर पहुंचीं, तब तक उन्होंने पहले ही अधिकांश यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया था।

कमेंट करें
7SCUv