एलओसी : पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम के सदस्य की घुसपैठ नाकाम

January 2nd, 2022

हाईलाइट

  • सामान की तलाशी में पाकिस्तानी राष्ट्रीय पहचान पत्र और टीकाकरण प्रमाण पत्र मिले हैं

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय सेना ने पाकिस्तान की तरफ से बॉर्डर एक्शन टीम (बीएटी) की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया। एक सैन्य बयान में रविवार को यह जानकारी दी गई।

बयान में कहा गया, एलओसी के पार दोनों सेनाओं के बीच चल रहे संघर्ष विराम समझौते का पूरी तरह उल्लंघन करते हुए, 1 जनवरी, 2022 को कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में बैट ने घुसपैठ की कोशिश की।

बयान के अनुसार, एलओसी पर तैनात सैनिकों द्वारा त्वरित कार्रवाई ने घुसपैठ के प्रयास को विफल कर दिया और आतंकवादी को मार गिराया, जिसकी पहचान बाद में एक पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद शब्बीर मलिक के रूप में हुई, जो हथियारों, गोला-बारूद से लैस था।

बयान में कहा गया, पठानी सूट और काली जैकेट पहने सशस्त्र घुसपैठिए को तड़के करीब तीन बजे एलओसी के पार पाकिस्तानी सेना के नियंत्रण वाले क्षेत्रों से घूमते हुए पाया गया।

सेना के बयान में कहा गया है, मारे गए घुसपैठिए का शव एक एके 47 और सात ग्रेनेड सहित बड़ी मात्रा में गोला-बारूद के साथ बरामद किया गया।

बयान में कहा गया है, सामान की तलाशी में पाकिस्तानी राष्ट्रीय पहचान पत्र और टीकाकरण प्रमाण पत्र मिले हैं। सामान में सेना की वर्दी में शब्बीर के नाम का टैब पहने घुसपैठिए की एक तस्वीर भी शामिल है।

यह स्पष्ट रूप से स्थापित करता है कि पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद को प्रायोजित करना जारी रख रहा है। पाकिस्तानी सेना को एक हॉटलाइन संचार किया गया है जिसमें उन्हें मारे गए व्यक्ति का शव वापस लेने के लिए कहा गया है।

 

(आईएएनएस)