comScore

गुरू दर्शन को जा रहे एक परिवार के तीन सदस्यों की सड़क हादसे में मौत

गुरू दर्शन को जा रहे एक परिवार के तीन सदस्यों की सड़क हादसे में मौत

डिजिटल डेस्क सिवनी/छपारा।  गुरु पूर्णिमा के दिन एन-एच सेवन रोड पर दर्दनाक सड़क हादसे मे एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई। परिवार के पांच सदस्य गुरू दर्शन के लिए तेज रफ्तार से जबलपुर ग्वारीघाट जा रहे थे। इसी दौरान छपारा के समीप सामने से आ रहे एक ट्रक  से जोरदार टक्कर हो गई, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हैं। 

ऐसे हुआ हादसा
इस संबंध में पुलिस ने बताया कि छिंदवाड़ा से कार में सवार होकर महिला शकुंतला जूनाधरे, लीना उकटे, दीनानाथ उटके, कृष्णा जूनगरे सभी लोग छिंदवाड़ा से ग्वारीघाट जा रहे थे। तकरीबन 10:30 बजे छपारा पहुंचे जहां फोर लाइन स्थित गोगरी ग्राम के पास तेज रफ्तार से जबलपुर की ओर से आ रहे ट्रक से कार की भिड़ंत हो गई। भिड़ंत इतनी जोरदार थी कि कार में सवार सभी लोग सड़क पर बाहर आ गए करीब आधा घंटा तक सड़क पर ही पड़े रहे। 

सूचना पर पहुंची पुलिस
सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को एम्बुलेंस की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छपारा में भर्ती कराया गया जहां से गंभीर रूप से घायल लोगों को जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया बताया जा रहा है कि घटना का कारण एक साइड से फोर लाइन रोड को बंद कर दिया गया था वन वे रोड चालू होने की वजह से सभी वहां आमने सामने से आ रहे थे तभी कार और ट्रक की भिड़ंत हो गई। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गइ है। 

सड़क हादसे में महिला की मौत
वहीं कटनी में कैलवाराफाटक समीप रहने वाले भैयारामदुबे 55 वर्ष परिवार के अन्य सदस्यों के साथ 4 मोटरसाइकिलों से शाहनगर गुरूपूर्णिमा पर गुरु के दर्शन करने जा रहे थे। तभी पन्ना तिराहे के समीप हादसे का शिकार हो गए। एक मोटरसाइकिल पर भैयाराम दुबे अपनी पत्नी शकुन दुबे 48 वर्ष, नाती सक्षम 5 वर्ष और नातिन समीक्षा 3 वर्ष के साथ बैठे थे। जबकि अन्य तीन मोटर साइकलों में उनके बेटा बहू थे। पन्ना तिराहे में बायपास के पास दुत्र गति से आ रहे रेत लोड हाइवा की चपेट में भैयाराम दुबे आ गए। 

हादसे में शकुन दुबे की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि भैयाराम दुबे, सक्षम और समीक्षा गंभीर रूप से घायल हो गये। हादसे ही खबर उनके बेटे बहू जो पीछे-पीछे ही आ रहे थे उनको नहीं थी। सड़क पर मजमा लगा देखा तब भी उन्हें अहसास नहीं था कि यह उनके माता पिता ही है जो हादसे का शिकार हुए हैं। समीप जाकर देखा तो पुत्र पर पहाड़ टूट पड़ा मां मृत अवस्था में तथा पिता गंभीर रूप से घायल अवस्था में पड़े थे, दो मासूम भी घायल थे। तब तक परिवार के अन्य लोग भी घटना स्थल पर पहुंच चुके थे। 

घायलों को अस्पताल भेजा गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मां के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। अस्पताल में घायल दुबे की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है, तबकि मासूम सक्षम और समीक्षा की हालत ठीक बताई जा रही है। हादसा रेत लोड हाइवा से घटित हुआ जिसे पकड़ लिया गया है।

कमेंट करें
YxldO