comScore

भोपाल: तीन साल के मासूम का अपहरण, CCTV में नजर आई संदिग्ध कार

भोपाल: तीन साल के मासूम का अपहरण, CCTV में नजर आई संदिग्ध कार

हाईलाइट

  • भोपाल के कोलार इलाके से तीन साल के मासूम बच्चे का अपहरण
  • बच्चे की तलाश में जुटा पुलिस प्रशासन
  • नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार पर खड़े किए सवाल

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक तीन साल के मासूम के अपहरण का मामला सामने आया है। घटना भोपाल के कोलार इलाके की बताई जा रही है। जहां रविवार शाम को करीब शाम 7 बजे घर के बाहर खेलते-खेलते बच्चा गायब हो गया है। बच्चे के परिजनों ने अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस प्रशासन बच्चे की तलाश में जुट गया है। प्राथमकि जानकारी के मुताबिक बच्चा घर के बाहर खेलता हुआ पास की दुकान पर टॉफी लेने गया था। जिसके बाद वापस घर नहीं लौटा।

पुलिस कंट्रोल रूप से भारी पुलिस कर्मियों को नाके पर लगाया गया। नाके से गुजरने वाले हर वाहन की तलाशी ली जा रही है। चर्चा है कि बच्चे को अगवा कर एक कार कैरवा चौकी के पास पुलिस चेकिंग प्वाइंट तोड़कर भागी है। इलाके के एक सीसीटीवी में उस कार की तस्वीर कैद हुई है। जिसमें बच्चे के अपहरण की आशंका है। स्थानीय पुलिस ने बताया कि कोलार के ग्राम बैरागढ़ चिचली में रहने वाला विपिन मीणा प्राइवेट काम करता है। उसका तीन साल का बेटा वरूण रविवार शाम को घर के बाहर खेल रहा था। सात बजे के करीब वह लापता हो गया। उसकी तलाश गांव वालों ने की। वह नहीं मिला तो कोलार थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई है। 

बच्चे के अगवा होने की सूचना पर स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा भी उसके घर पहुंचे। विधायक ने परिजनों से मामले की जानकारी ली और डीआईजी भोपाल इरशाद वली से पूरी घटना पर चर्चा की। वहीं इस घटना को लेकर  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, कमलनाथ सरकार का प्रशासनिक नियत्रंण केवल तबादलों तक सीमित है। सरकार की नाक के नीचे अबोध बच्चों का अपहरण और बच्चियों से बलात्कार की घटना घटित हो रही हैं। 

कमेंट करें
0efhS