comScore

आकाश विजयवर्गीय को भारी पड़ी बल्लेबाजी, जमानत निरस्त, काटेंगे जेल की हवा


डिजिटल डेस्क, इंदौर। बीजेपी के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र और विधायक आकाश विजयवर्गीय विवादों में आ गए है। आकाश विजयवर्गीय का मारपीट करते हुए एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में वह एक निगम अधिकारी को बैट से पीट रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नगर निगम का अमला गंजी कंपाउंड में एक जर्जर मकान को तोड़ने पहुंचा था। इसी दौरान स्थानीय लोगों ने विधायक विजयवर्गीय को बुला लिया। जिसके बाद विजयवर्गीय ने अधिकारी की पिटाई कर दी। पिटाई कांड को लेकर आकाश को पुलिस ने हिरासत में लेकर कोर्ट में पेश किया गया। जहां कोर्ट ने उनकी जमानत निरस्त कर दी है। आकाश 7 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में रहेंगे। मामले की अगली सुनवाई 7 जुलाई को होगी। 

पुलिस ने  आकाश और उनके 10 समथर्कों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने, मारपीट और बलवा का मुकदमा दर्ज किया गया है। लोगों के बुलाने पर आकाश अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुंच गए और कार्रवाई का विरोध करने लगे। उन्होंने अधिकारियों को धमकी देते हुए 10 मिनट में निकल जाने को कहा। इस दौरान अधिकारियों से उनकी बहस हो गई। तभी आकाश ने गुस्से में अधिकारी को बैट से पीटना शुरू कर दिया। पूरे इलाके में जबरदस्त हंगामा हुआ। आकाश विजयवर्गीय देर तक निगम कर्मचारी से भिड़ते रहे। पुलिस और अन्य लोगों ने किसी तरह विधायक आकाश को पकड़कर शांत करवाया। 

आवेदन, निवेदन और फिर दनादन : आकाश

नगर निगम कर्मचारी की पिटाई के बाद मीडिया से बातचीत में आकाश विजयवर्गीय ने कहा कि ये तो महज शुरुआत है। हम भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी का खात्मा करेंगे। आवेदन, निवेदन और दनादन हमारा काम करने का तरीका है।

आकाश के साथ उनके समर्थकों ने भी खुलेआम गुंडागर्दी की। समर्थकों ने जेसीबी मशीन की चाबी निकाल ली। विधायक और समर्थकों की गुंडागर्दी से निगम के कर्मचारी में आक्रोश है। निगम के सभी विभागों का काम बंद हो गया है। नगर निगम विधायक के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाने की तैयारी कर रही है। बता दें कि आकाश विजयवर्गीय इंदौर-3 विधानसभा सीट से विधायक है।  गृहमंत्री बाला बच्चन ने कहा कि आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इस घटना से बीजेपी का चाल चरित्र चेहरा सबके सामने आया है। 

कांग्रेस बोली, संस्कारों की अर्थी निकल रही है

कमेंट करें
0ePKo