comScore

अपहरण कांड का अड्डा बनता एमपी, सतना में मासूम की अगवा कर हत्या

March 13th, 2019 19:25 IST
अपहरण कांड का अड्डा बनता एमपी, सतना में मासूम की अगवा कर हत्या

डिजिटल डेस्क,सतना। नागौद थाना क्षेत्र के रहिकवारा गांव से मंगलवार दोपहर करीब 3:30 बजे  घर के बाहर खेल रहे 5 वर्षीय मासूम शिवकांत प्रजापति पुत्र झब्बू का अपहरण उसके ही चाचा ने कर लिया और धारदार हथियार से 2 टुकड़े करने के बाद डालडा के डिब्बे में डालने के बाद बोरी में छुपा कर गांव के पोखर में फेंक दिया ।

राहगीर महिला के मोबाइल का किया उपयोग

आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिए सुरदहा रोड पर जा रही एक महिला से जरूरी फोन करने की बात लेकर मोबाइल लिया और मृतक के एक और चाचा को फोन कर रू.200000 की फिरौती मांगी जिससे घबराए परिजन ने डायल 100 व नागौद पुलिस को सूचित किया तो पुलिस हरकत में आ गई । टावर लोकेशन और सिम की डिटेल के आधार पर दुकानदार को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने उस महिला का नाम बताया जिसने सिम खरीदा था। लिहाजा महिला को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ की गई । महिला ने अपहरण में हाथ होने से इनकार करते हुए सिर्फ एक व्यक्ति को कुछ समय के लिए फोन देने की बात स्वीकार की।

बनाई एक दर्जन टीमें

चित्रकूट कांड के बाद मासूम के अपहरण से सकते में आए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने एक दर्जन टीमें बनाकर रहिकवारा, पन्ना ,कटनी की तरफ रवाना कीं । इसी के साथ ही नदी नाले की सर्चिंग शुरू कर दी। इसके अलावा पारिवारिक रंजिश के एंगल को खंगालते हुए 4-5 संदेहियों को पकड़कर पूछताछ की जाने लगी।  डॉग स्कॉट को भी सक्रिय किया गया।

चाचा का हाथ आया सामने            

इसी बीच मामले में बच्चे के चाचा अनुताप प्रजापति की भूमिका सामने आई। इस संदिग्ध से कड़ाई से सवाल जवाब किए गए तो उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए लाश बरामद करा दी । इस घटना के चलते गांव में तनावपूर्ण स्थिति बन गई है । मौके पर आईजी चंचल शेखर डीआईजी अविनाश शर्मा एसपी संतोष सिंह और समेत तमाम आला अधिकारी पहुंच चुके हैं।

एसपी को हटाने की मांग

वहीं पूर्व डिप्टी स्पीकर डॉ. राजेंद्र कुमार सिंह ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखकर एसपी संतोष सिंह गौर को हटाने की मांग की है। 

Loading...
कमेंट करें
mwKUR
Loading...