comScore

केलमनिया नहर में गड़बड़ी का आरोप , मिट्टी के ऊपर लगा रहे सीमेंट का लेप

March 11th, 2019 16:36 IST
केलमनिया नहर में गड़बड़ी का आरोप , मिट्टी के ऊपर लगा रहे सीमेंट का लेप

डिजिटल डेस्क,शहडोल। सरकारी धन की फाग खेलने में विभागीय कर्मचारी पीछे नहीं है । यह आरोप लगाते हुए केलमनिया के ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री को पत्र प्रेषित कर नहर निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान रखे जाने की मांग की है। शहडोल व अनूपपुर जिले की सीमा पर सांसद आदर्श ग्राम केलमनियां में बनाए जा रहे करोड़ों के नहर में गड़बड़ी के आरोप लगाए जा रहे हैं। बांध से होकर बन नहर में मिट्टी के ऊपर सीधे सीमेंंट लगाया जा रहा है। बिना बेस के बन रही पक्की नहर के टिकाऊ होने पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। ऐसे में पानी भरते ही नहर बहने लगेगी।

7 करोड़ रुपये बांध व नहर निर्माण पर खर्च हो रहे-
जानकारी के अनुसार सिंचाई विभाग द्वारा करीब 16 करोड़ की लागत से बनाए जा रहे केलमनियां बांध में 7 करोड़ रुपये बांध व नहर निर्माण पर खर्च हो रहे हैं। बाकी राशि में प्रभावित भू स्वामियों को मुआवजा आदि देना है। मुआवजा तो किसी को मिला नहीं, नहर निर्माण में भी लीपापोती की जा रही है।
केलमनियां सांसद आदर्श ग्राम है। जहां पूर्व सांसद दलपत सिंह के प्रयासों से करोड़ों का बांध बनना शुरु हुआ। बांध का काम लगभग पूर्णता की ओर है और नहर बनाई जा रही है। जानकारों के अनुसार नहर में मिट्टी के ऊपर पन्नी व फिल्म की बेस लगाई जानी चाहिए। इसके बाद कांक्रीट व सीमेंट का वर्क होना चाहिए। लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। तकनीकी अमले की गैर मौजूदगी में ठेकेदार के कर्मचारी कमजोर नहर बनाने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में पानी भरते ही नहर बहने लगेगी। जिसके कारण पानी खेतों तक नहीं पहुंच पाएगा।

इनका कहना है-
नहर का निर्माण मापदण्ड के अनुसार ही कराया जा रहा है। जरूरत के अनुसार बेस बनाकर ही सीमेंट लगाया जा रहा है। सभी स्थानों पर बेस की आवश्यकता नहीं होती।  
विजय जैन, उपयंत्री सिंचाई विभाग

 

कमेंट करें
hgIFO