comScore

कमलनाथ सरकार का कर्मचारियों को तोहफा, मंहगाई भत्ता में किया इजाफा

कमलनाथ सरकार का कर्मचारियों को तोहफा, मंहगाई भत्ता में किया इजाफा

डिजिटल डेस्क, भोपाल। लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कर्मचारियों को आकर्षित करने के लिए कमलनाथ सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लाखों कर्मचारियों को एक बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने तीन फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ाने का फैसला किया है। सोमवार को हुई कमलनाथ कैबिनेट की बैठक में कर्मचारियों और पेंशनर्स का महंगाई भत्ता 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने की मंजूरी दे दी है। कर्मचारियों और पेंशनर्स को यह मंहगाई भत्ता 1 जनवरी 2019 से मिलेगा। सरकार के इस निर्णय से सात लाख कर्मचारियों और साढ़े चार लाख पेंशनर्स को फायदा मिलेगा। कैबिनेट की बैठक में कई अन्य महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए।

छतरपुर हीरा खदान नीलाम करने का निर्णय

बैठक में छतरपुर में स्थित हीराखदान को नीलाम करने का निर्णय भी लिया गया है। इस क्षेत्र में 34.20 मिलियन कैरेट हीरा खनिज के भण्डार आंकलित किए गए हैं। जिसका अनुमानित भण्डारण मूल्य 60 हजार करोड़ रुपए है। 

विज्ञान केंद्र की स्थापना

कैबिनेट ने उज्जैन में उप क्षेत्रीय विज्ञान केंद्र की स्थापना करने का भी निर्णय लिया है। सरकार ने संचालन के लिए मप्र विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद में 8 पदों को आउटसोर्स,संविदा आधार पर भरे जाने के लिए भी मंजूरी दी है। इसमें क्यूरेटर और एजुकेशन असिस्टेंट के एक-एक पद, टेक्नीशियन के चार और लोअर डिवीजन क्लर्क और ऑफिस असिस्टेंट के दो पद शामिल हैं। वहीं बैठक में पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षण का प्रतिशत बढ़ाकर 27 प्रतिशत करने का निर्णय लिया गया है। 

केंद्र सरकार ने भी बढ़ाया महंगाई तोहफा

इससे पहले केंद्र सरकार ने भी लोकसभा चुनाव से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा दिया था। सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में तीन फीसदी की बढ़ोत्तरी की थी। इस फैसले से केंद्र सरकार को 9 हजार 168 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। 

कमेंट करें
tOiv2