comScore

गोरेवाड़ा की फेसिंग से घुसकर तेंदुए ने किया 9  हिरण का शिकार

February 06th, 2019 16:25 IST
गोरेवाड़ा की फेसिंग से घुसकर तेंदुए ने किया 9  हिरण का शिकार

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  गोरेवाड़ा रेस्क्यू सेंटर में रखे 9 हिरणों का शिकार कर तेंदुए ने उन्हें मार डाला। सुबह घटना का पता चलते ही अधिकारी व कर्मचारियों में खलबली मच गई, क्योकि हिरणों को जिस फैन्सिंग में रखा था। वहां तेंदुए का पहुंचना संभव नहीं था। बावजूद इसके तेंदुए का भीतर घुसकर शिकार करना हर किसी के समझ से परे हैं। मारे गये हिरणों में 3 सामान्य हिरण, 4 काले हिरण व 2 चौसिंगा थे। इसमें तेंदुए ने केवल एक ही हिरण को आधा खाया था। बाकियों को ऐसे ही छोड़ दिया था। सुबह सभी शव का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार कराया गया।

शहर से 10 किमी दूरी पर गोरेवाड़ा जंगल बना है। यहां हरियाली के बीच वन्यप्राणियों का बसेरा भी है। तेंदुआ, जंगली सुअर, मोर, बंदर आदि वन्यजीव यहां रहते हैं। करीब 1914 हेक्टर में फैला गोरेवाड़ा जंगल दूर-दराज से आनेवाले सैलानियों के लिए आकर्षण का केन्द्र है। वर्तमान स्थिति में यहां 15 किमी की जंगल सफारी बनी है। साथ ही यहां वन्यजीव बचाव केन्द्र के साथ रेस्क्यू सेंटर भी है। यहां नागपुर जिले और बाहर के कई जगहों से रेस्कयू कर वन्यजीवों को लाया जाता है। यहां ट्रीटमेंट के बाद बहुतांश को निर्सगमुक्त किया जाता है। वहीं कुछ को किसी कारणवश यहीं पर रखा जाता है। इसी तरह रेस्कयू कर लाए कुछ हिरणों को यहां सोलर फैन्सिंग के बीच रखा गया है।

परिसर में तेंदुए की संख्या होने से उनके डर से हिरण को इस फैसिंग में रखा गया है। इस फैन्सिंग में सोलर से विद्युत प्रवाह भी किया जाता है। जिससे अब तक तो कोई भी जंगली जानवर इसके भीतर घुसकर इनका शिकार नहीं कर सका है, लेकिन अनुमानित है कि, मंगलवार की मध्यरात्रि तेंदुए ने फैन्सिंग के ऊपर से छलांग लगाते हुए यहां प्रवेश लिया होगा। साथ ही एक के बाद एक इन हिरणों पर अटैक किया होगा। काफी समय से फैन्सिंग के बीच रहने वाले हिरण खुद का बचाव करने में असमर्थ रहते हैं। ऐसे में तेंदुए  के लिए इनका शिकार करना आसान था। फिलहाल संबंधित अधिकारी इस घटना की जांच में लगे हैं।

कमेंट करें
jZMxm