comScore

चीन से नागपुर के लिए निकली माझी मेट्रो, 6 कोच तैयार

November 22nd, 2018 16:29 IST

डिजिटल डेस्क, नागपुर। चीन से नागपुर के लिए  गुरूवार की दोपहर माझी मेट्रो निकली। इस वक्त चीन में उपस्थित मेट्रो के निदेशक बृजेश दीक्षित ने इसे हरी झंडी दिखाई। चीन से यह 6 कोच जहाज से चेन्नई तक व चेन्नई से नागपुर तक लाये जाएंगे। नागपुर के सिविल लाइंस स्थित मेट्रो कार्यालय में मीडिया व अधिकारियों की उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग माध्यम से यह समारोह संपन्न हुआ।

नागपुर शहर की परिवहन व्यवस्था को मजबूत करने के लिए ढाई साल पहले मेट्रो रेल के काम का आगाज हुआ। यह काम इतनी स्पीड से हो रहा है, कि आनेवाले कुछ ही महीनों में नागपुर में मेट्रो रेल दौड़ने का लक्ष्य विभाग ने सामने रखा है। वर्ष 2019 मार्च माह के आखिर तक रीच-1 व री-3 यानी सीताबर्डी से खापरी व हिंगणा के बीच मेट्रो रेल दौड़ाई जाएगी। जिसका फायदा आम यात्री ले सकेगा। इसी दिशा में तेजी से काम करते हुए कुल 69 कोच बनाने का ऑर्डर चीन को दिया गया है। इसमें दो मेट्रो यानी कुल 6 कोच दौड़ने के लिए तैयार हो गई है। पहली बार चीन यह गाड़ियां नागपुर के लिए निकली है। इससे पहले भी नागपुर में 6 कोच है। लेकिन वह हैद्राबद की एक कंपनी ने बनाया है। ऐसे में दूसरे देश से पहली बार ही नागपुर में मेट्रो रेल आ रही है। जो नगरवासियों के लिए गर्व का मौका है।

चीन में बनी मेट्रो रेल का पहला कोच ड्राइवर कोच रहेगा। बीच का व पीछे का कोच यात्रियों का रहेगा। ड्राइवर कोच में भी यात्री बैठ सकेंगे। ऐसे में कुल 900 की क्षमता का एक कोच रहेगा। बड़ी कांच की खिड़कियां सफर के दौरान यात्रियों को गजब का अहसास कराएगी। अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो रेल बनाने के लिए केवल चीन की मदद ही नहीं ली गई। बल्कि अन्य देश जैसे जर्मनी, जापान व इंडिया भी शामिल हैं।  इसके एक कोच की कीमत 8 करोड़ 2 लाख रुपये है। जो पूरे दुनिया में सबसे सस्ता कोच नागपुर मेट्रो का बनाने का दावा प्रशासन कर रही है।  निदेशक श्री दीक्षित ने कॉन्फ्रेंसी के माध्यम से बातचीत करते हुए बताया कि इसके बाद नागपुर में कोच आने का सिलसिला जारी हो गया है। जनवरी से जुलाई तक पूरे कोच नागपुर में आ जाएंगे।  

नागपुर में बनेगी कोच फैक्ट्री 
बताया गया कि आनेवाले समय में नागपुर के साथ पुणे में भी माझी मेट्रो का संचालन किया जाएगा। ऐसे में करीब 75 कोच की जरूरत पड़ेगी। ऐसे में यह कोच आगे नागपुर में बननेवाले हैं। इसके लिए सिंधी रेलवे से बातचीत की जा रही है। ताकि उनके माध्यम से कोच मिल सके। नागपुर में कोच फेक्ट्री बनने के बाद पुणे मेट्रो के लिए यहीं से कोच बनाये जाएंगे।

कमेंट करें
b3D5M