comScore

यूपी से आई नशीली दवाओं की बड़ी खेप, पुलिस के हाथ लगी

यूपी से आई नशीली दवाओं की बड़ी खेप, पुलिस के हाथ लगी

डिजिटल डेस्क,रीवा। मादक पदार्थो के खिलाफ प्रदेश में चल रहे ऑपरेशन प्रहार में रीवा पुलिस को लगातार बड़ी सफलताएं मिल रही हैं। बीती रात मनगवां पुलिस ने नशीली कफ सिरप की दो बड़ी खेप पकड़ी है। एक वाहन से 1500 शीशी और दूसरे वाहन से 1200 शीशी कफ सिरप जब्त की गई है। इन मामलों में यूपी के एक युवक के साथ ही चार नाबालिग पकड़े गए हैं। जब्त नशीली दवा की अनुमानित कीमत 2 लाख 70 हजार रूपये बताई जा रही है। 

क्षतिग्रस्त वाहन का उपयोग

यूपी से नशीली दवा की खेप लाने के लिए क्षतिग्रस्त वाहन का उपयोग किया गया। ऐसा इसलिए किया गया, ताकि किसी को जरा भी शक न हो। लेकिन पुलिस को मुखबिर से यह जानकारी मिल गई थी कि नशीली दवा की एक बड़ी खेप आ रही है। जिसके चलते टीआई ने स्टॉफ को लेकर नाकेबंदी कर दीे। पुलिस की मुस्तैदी के चलते आखिर ये पकड़े गए। पुलिस को मिली इस सफलता में टीआई के साथ ही एसआई मृगेन्द्र सिंह, एएसआई आरएन प्रजापति, आरक्षक अरूणेन्द्र सिंह, अखिल सिंह एवं अशोक सिंह बघेल का योगदान रहा।

कोष्टा गांव जा रही थी एक खेप

मनगवां पुलिस ने मढ़ी गांव के समींप बिना नम्बर की टाटा सफारी गाड़ी को रोक कर तलाशी ली तो आटा की बोरियों में ऑनरेक्स कफ सिरप की बड़ी खेप मिली। इस वाहन में एक युवक और तीन नाबालिग सवार थे। पुलिस ने बताया कि वाहन में सवार प्रयागराज उत्तर प्रदेश का रहने वाला तरणीश तिवारी पुत्र रावेन्द्र नाथ 33 वर्ष से पूछताछ में पता चला है कि यह खेप रीवा के कोष्टा गांव पहुंचाई जा रही थी। इस वाहन में नाबालिग क्रेता भी सवार था। बताया जा रहा है कि इस नाबालिग क्रेता की मॉ का नाम कई बार मादक पदार्थो के कारोबार में सामने आया है। टाटा सफारी वाहन से जब्त 1500 शीशी कफ सिरप के मामले में गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस और भी जानकारियां जुटा रही है।

दूसरी खेप कुईयां गांव में उतरनी थी

रात्रि गश्त के दौरान मनगवां पुलिस को एक दुर्घटनाग्रस्त बैगनार दिखी तो वहां मदद के लिए पहुंची। पता चला कि यह गाड़ी मवेशी से टकरा गई है। गाड़ी में सिर्फ एक नाबालिग मिला।  इस गाड़ी में रखी बोरियों पर पुलिस की नजर पड़ते ही मामला गड़बड़ लगा। जिस पर बोरियों को खोला गया। बोरियां खोली तो उसमें नशीली कफ सिरप की खेप मिली। नाबालिग ने पुलिस को बताया कि गाड़ी में कुईयां निवासी आशीष पटेल उर्फ मामा भी था। जो गाड़ी के दुर्घटनाग्रस्त होने पर टोचन के लिए इंतजाम करने गया है। इस तरह पुलिस ने उसे भी आरोपी बनाया है। बताया गया है कि बैगनआर गाड़ी से 12 सौ शीशी कफ सिरप बरामद हुई है। यह खेप मनगवां थाना क्षेत्र के कुईयां गांव ही जा रही थी।

इनका कहना है

नशा के लिए उपयोग हो रही कफ सिरप की दो बड़ी खेप पकड़ी गई है। यह खेप अलग-अलग जगह जा रही थी। नशीली कफ सिरप की खेप के साथ एक युवक सहित चार नाबालिग पकड़े गए हैं। राजकुमार मिश्र, टीआई मनगवां

कमेंट करें
TUPo5