comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सेंट्रल जेल का क़ैदी पुलिस कस्टडी से फरार, नाशिक ले जाते समय ट्रेन से भागा

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 28th, 2018 15:31 IST

2.3k
0
0
सेंट्रल जेल का क़ैदी पुलिस कस्टडी से फरार, नाशिक ले जाते समय ट्रेन से भागा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सेंट्रल जेल में उम्र कैद की सजा काट रहा कैदी नागपुर पुलिस को चकमा देकर सेवाग्राम एक्सप्रेस से फरार हो गया। यह घटना जलगांव के समीप बोदवड रेलवे स्टेशन के पास हुई।  फरार कैदी का नाम सतीश जैमुख काले है।  वह तलोजा का रहनेवाला है। सतीश को न्यायालय ने उम्रकैद की शिक्षा सुनाई है और वह नागपुर के सेंट्रल जेल में सजा काट रहा था।  नाशिक में शुरू केस की सुनवाई के लिए न्यायालय में पेश करने के लिए उसे नागपुर पुलिस की टीम 26 नवंबर को सेवाग्राम एक्सप्रेस से लेकर जा रही थी। बीती रात जलगांव जिले के बोदवड रेलवे स्टेशन पर उसने पुलिस को चकमा दिया और फरार हो गया।  फरार कैदी की सरगर्मी से तलाश की जा रही है।  लेकिन अब तक उसका कोई भी सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

टायलेट जाने के बहाने दिया चकमा
जानकारी के अनुसार इस फरार कैदी को पुलिस विभाग के तीन से चार जवान लेकर जा रहे थे उसने लघुशंका आने की बात की तो उसे एक जवान ट्रेन के टायलेट के पास लेकर गया।  मौका पाकर उसने उस जवान को चकमा देकर वहां से फरार हो गया। इस बारे में उस जवान ने अन्य जवानों को सूचना दी। साथी पुलिस जवानों ने यह सुना तो उनके होश उड़ गए। पहले इन सभी ने अपने स्तर पर खोजबीन की जब कोई सुराग नहीं मिला तो भुसावल जीआरपी को सूचित किया। भुसावल जीआरपी ने आसपास के सभी रेलवे स्टेशनों पर इस फरार कैदी के बारे में जानकारी देकर अलर्ट करने के लिए कहा। इस घटना के बारे में नागपुर के धंतोली थाने को भी सूचना दी गई है। यह थाना नागपुर सेंट्रल जेल की सीमा में है। जेल में कोई भी घटना या वारदात होने पर मामला धंतोली पुलिस थाना में दर्ज होता है। 

सेंट्रल जेल से पहले भी भाग चुके हैं कैदी
गौरतलब है कि 2015 में नागपुर सेंट्रल जेल से पांच कैदी दीवार फांदकर हो गए थे। इन  कैदियों में  मध्यप्रदेश रहने वाला भीमसेन उइके(35), नागपुर का मोहम्मद सलीम खान(24), कामठी का रहने वाला सत्येंद्र गुप्ता(24), नेपाल का नेपाली खादी(31) और नागपुर का आकाश ठाकुर(22) शामिल थे। नागपुर सेंट्रल जेल में कई कुख्यात अपराधी बंद है। इनमें गैंगस्टर अरुण गवली सहित पुणे  बेकरी कांड के आरोपी भी यहां सजा भुगत रहे हैं।   

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें