comScore

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने घटाई ऋण दरें, होम, पर्सनल जैसे लोन होंगे सस्ते


हाईलाइट

  • स्टेट बैंक ने सभी टैन्योर के लिए अपनी ऋण दरों में 5 बेसिस पॉइंट की कटौती की है
  • नई दरें बुधवार से प्रभावी होगी
  • SBI की इस वित्तीय वर्ष में ये तीसरी कटौती है

डिजिटल डेस्क, मुंबई। स्टेट बैंक ने सभी टैन्योर के लिए अपनी ऋण दरों में 5 बेसिस पॉइंट की कटौती की है। नई दरें बुधवार से प्रभावी होगी। SBI की इस वित्तीय वर्ष में ये तीसरी कटौती है। एसबीआई ने भारतीय रिजर्व बैंक के रेपो रेट कम किए जाने के बाद अपनी ब्याज दरों में कटौती करने ऐलान किया है। अप्रैल और मई में भी SBI ने 5 बीपीएस की कटौती की थी।

देश के सबसे बड़े बैंक ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि मिनिमम कॉस्ट लेंडिंग रेट (एमसीएलआर) जिससे सभी लोन लिंक होते हैं को 8.45 से घटाकर 8.40 कर दिया गया है। ऐसा करने से ग्राहकों के पर्सनल लोन, होम लोन, क्रेडिट कार्ड लोन, प्रॉपर्टी पर लोन, ऑटो लोन की ईएमआई में कमी आएगी। एमसीएलआर में कटौती के साथ, 10 अप्रैल, 2019 से होम लोन की दरों में कमी 20 बेसिस पॉइंट हो गई है।

1 जुलाई 2019 को बैंक ने रेपो-लिंक्ड होम लोन प्रोडक्ट को पेश किया है। अगर इसे आसान भाषा में समझें तो रिजर्व बैंक जब-जब रेपो रेट में बदलाव करेगा उसी आधार पर एसबीआई की होम लोन की ब्‍याज दर भी तय होगी। अभी तक एसबीआई अपने हिसाब से आरबीआई के रेपो रेट के बदलाव के बाद होम लोन पर ब्‍याज दरों में कटौती या बढ़ोतरी करता था। रोपो रेट से लिंक होने के बाद अब यह पूरी तरह से बदल गया है। 

बता दें कि 6 जुलाई को आरबीआई ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक में रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कमी का फैसला किया था। इस कमी के बाद रेपो रेट घटकर 5.75 फीसदी पर आ गई है। अभी यह 6 फीसदी थी। आरबीआई ने लगातार तीसरी बार रेपो रेट में कटौती की थी। इससे पहले फरवरी और अप्रैल की पॉलिसी में भी आरबीआई की तरफ से रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती की गई थी। आरबीआई द्वारा अब तक तीन पॉलिसी में 0.75 फीसदी की कटौती की जा चुकी है।

कमेंट करें
pifPz