comScore

MP : कल होगा सुंदरलाल तिवारी का अंतिम संस्कार, नेताओं ने कहा - विंध्य की आवाज खामोश हो गई

March 11th, 2019 14:41 IST
MP : कल होगा सुंदरलाल तिवारी का अंतिम संस्कार, नेताओं ने कहा - विंध्य की आवाज खामोश हो गई

डिजिटल डेस्क, भोपाल।  मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने अपने दिग्गज नेता को खो दिया है। कांग्रेस दिग्गज नेता सुंदरलाल तिवारी का हार्ट अटैक के बाद सोमवार को निधन हो गया। तिवारी को सुबह हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें गंभीर हालत में रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती किया गया था। इलाज के दौरान तिवारी का निधन हो गया। वे कांग्रेस के कद्दावर नेता एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्वर्गीय श्रीनिवास तिवारी के पुत्र हैं। जनपद अध्यक्ष, सांसद और विधायक के रूप में जनता का प्रतिनिधित्व कर चुके सुंदरलाल तिवारी कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में अपना स्थान रखते थे। 62 वर्षीय सुंदरलाल तिवारी के आकस्मिक निधन की खबर मिलते ही शोक की लहर दौड़ गई।

मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद सिंधिया ने जताया शोक

विंध्य की भूमि की आवाज खामोश हो गई - अजय सिंह

पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि ''सुन्दरलाल तिवारी के निधन का बेहद दुखद समाचार है। यह कांग्रेस पार्टी और विन्ध्य के लिए अपूरणीय क्षति है, जिसकी पूर्ति होना संभव नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने एक जुझारू, कद्दावर नेता खो दिया है। विंध्य की भूमि की आवाज़ खामोश हो गई है।

सुंदरलाल तिवारी रीवा संसदीय सीट से सांसद भी रह चुके हैं। सुंदरलाल तिवारी 2018 के विधानसभा चुनाव में रीवा जिले के गुढ़ सीट से लड़े थे, जहां उन्हें हार का सामना करना पड़ा। सुंदरलाल तिवारी रीवा जिले के गुढ़ विधानसभा सीट से 2013 में विधायक रहे। वहीं रीवा लोकसभा सीट से 1999 में सांसद निर्वाचित हुए थे। 

योगा करते करते आया अटैक

सोमवार को सुबह के वक्त रोज की तरह दिनचर्या में व्यस्त रहे सुबह होते ही मॉर्निंग वॉक पर निकले इसके बाद  घर पर आए लोगों से रोज की तरह मुलाकात की। लोगों से मुलाकात करने के बाद भी योगा करने चले गए इसी दौरान उन्हें अटैक पड़ा और तत्काल ही संजय गांधी इसमें चिकित्सालय ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया।

दिल्ली में बेटा और बेटी

कांग्रेस नेता सुंदरलाल तिवारी के बेटा और बेटी दिल्ली में है । पुत्र सिद्धार्थ तिवारी सॉफ्टवेयर इंजीनियर है, जबकि बेटी कनुप्रिया सुप्रीम कोर्ट में वकालत करती हैं। पिता के निधन की जानकारी मिलते ही दोनों प्लेन से बनारस के लिए निकले हैं ,जहां से सड़क मार्ग से रीवा पहुंचेंगे।
 
राजनीति की दूसरी पीढ़ी का अंत

सुंदरलाल तिवारी के निधन के साथ ही इस परिवार में राजनीति की दूसरी पीढ़ी का अंत हो गया है। 1 साल पहले 19 जनवरी 2018 को उनके पिता पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्रीनिवास तिवारी का निधन हुआ था।

मंगलवार को होगा अंतिम संस्कार

इनके निधन की जानकारी मिलते ही शोक श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लग गया। अमहिया स्थित आवास में अंतिम दर्शन के लिए शव को रखा गया है। पारिवारिक जानकारी के अनुसार उनका अंतिम संस्कार मंगलवार को गृह ग्राम तिवनी में होगा।

कमेंट करें
GTJNH
कमेंट पढ़े
ARUN PANDEY March 11th, 2019 13:55 IST

DUKHAD GHATNA HAI