comScore

संविधान किसी को कहीं भी जाने की इजाजत देता है-सुशील मोदी

February 08th, 2019 19:07 IST
संविधान किसी को कहीं भी जाने की इजाजत देता है-सुशील मोदी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। स्थानीय नागरिकों को रोजगार के मामले पर बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि संविधान हर किसी को कहीं भी जाने की इजाजत देता है। गुजरात के लाखों लोग यूके में काम कर रहे हैं। पंजाब के लोग कनाडा जैसे देशों में बहुतायत संख्या में रोजगार पाए हुए हैं। बिहार के लोग मेहनत में आगे रहते हैं। लिहाजा देश विदेश में वे हर मेहनती काम में मिलते हैँ। कहीं कोई विरोध होता है तो वह केवल राजनीति है। मोदी ने यह भी कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में राजद नेता लालूप्रसाद यादव का परिवार सुधर नहीं पाएगा। भाजपा से बागी चल रहे शत्रुघ्न सिन्हा का जमाना बीत गया है।

भारत के मन की बात , मोदी के साथ कार्यक्रम के सिलसिले में शुक्रवार को यहां आए  मोदी गणेशपेठ स्थित भाजपा कार्यालय में पत्रकार वार्ता में बोल रहे थे। उन्होंने बताया कि जनता से सुझाव लेकर भाजपा लोकसभा चुनाव के लिए घोषणापत्र तैयार कर रही है। घोषणापत्र का संकल्प पत्र का नाम दिया गया है। लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन दर्ज कराने के दौरान ही भाजपा घोषणापत्र जारी कर देगी।स्थानीय को रोजगार से जुड़े प्रश्न पर श्री मोदी ने यह भी कहा कि बिहार के नागरिकों को मराठी जन ने गले लगाया है। केवल कुछ दलों ने विरोध किया है। बिहार में भी महाराष्ट्र के लोग रोजगाए पाए हुुए हैं। 

यह भी कहा
-राफेल को लेकर उच्चतम न्यायालय ने फैसला दे दिया है। कहने सुनने के लिए कुछ बचा ही नहीं है। चुनाव के मौसम में आरोप प्रत्यारोप चलते रहते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रोज झूठ बोल रहे हैं। प्रधानमंत्री को लेकर चोर चोर कहनेवाले झूठे हैं। 
-अखिलेश यादव हो,तेजस्वी यादव या फिर ममता बैनर्जी,सबके सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से डरे हुए हैं। बसपा अध्यक्ष मायावती भी उनमें शामिल हैं।
-लालू प्रसाद यादव को भ्रष्टाचार के मामले में सजा हुई तो लोग मान रहे थे कि अब वे सुधर जाएंगे। लेकिन यादव परिवार सुधर नहीं पाया है। तेजस्वी यादव ने 29 साल की उम्र में 53 संपति खड़ी की है। पटना से लेकर दिल्ली तक  मकान , फ्लैट हैं। नेता प्रतिपक्ष होते हुए भी वे सरकारी बंगले के लिए अड़े हुए हैं। हमने बंगले की जिद नहीं की है।
-महिला आरक्षण के पक्ष में भाजपा सदैव रही है। बिहार की निकाय संस्थाओं में सबसे पहले महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण लागू किया गया। 
-शत्रुघ्न सिन्हा का जमाना बीत गया है। वे प्रियंका चोपड़ा नहीं जो उनके लिए भीड़ जुटेगी। उन्हें भीड़ जुटाना पड़ता है। कुछ लोगों को गलतफहमी होती है। शत्रुघ्न सिन्हा की गलतफहमी इस बार दूर हो जाएगी। उन्हें चुनौती दी जाती है कि वे राजद या अन्य किसी दल के टिकट पर पटना साहिब से लोकसभा चुनाव लड़ें। 
 
ये थे उपस्थित
पत्रकार वार्ता में भाजपा के शहर अध्यक्ष सुधाकर देशमुख , भाजयुमो की शहर अध्यक्ष शिवाणी दानी, भाजपा एससी सेल के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष पारधी, शहर महामंत्री किशोर पलांदुरकर, भोजराज डुंबे,शहर प्रचार प्रमुख चंदन गोस्वामी, भाजयुमो महामंत्री जीतेंद्र ठाकुर उपस्थित थे। 

कमेंट करें
a6GNo