comScore

बरेली: जिंदगी की जंग हारी रजिया, पति की प्रताड़ना के बाद इलाज के दौरान मौत

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 11th, 2018 12:47 IST

बरेली: जिंदगी की जंग हारी रजिया, पति की प्रताड़ना के बाद इलाज के दौरान मौत

डिजिटल डेस्क, बरेली। उत्तर प्रदेश के बरेली में तीन तलाक और पति की प्रताड़ना ने एक महिला की जान ले ली। महीनेभर से जिंदगी की जंग लड़ रही तीन तलाक पीड़िता रजिया आखिरकार मंगलवार को हार गई और अस्पताल में इलाज के दौरान सबको अलविदा कह गई, लेकिन आखिरी सांस तक उसने यही सवाल पूछा, क्या पति को सजा मिली?

 

   
दरअसल उत्तर प्रदेश के बरेली में तीन तलाक पीड़िता रजिया की मंगलवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। रजिया की शादी 13 साल पहले बस्‍ती जिले के रहने वाले नईम से हुई थी। करीब दो महीने पहले उसने फोन पर तीन बार तलाक बोला था। इतना ही नहीं तलाक देने के बाद भी नईम, रजिया को बरेली में बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट करता था। नईम ने रजिया को एक महीने तक एक कमरे में बंद रखा, भूखा-प्यासा रखकर उसके साथ मारपीट की। कई बार मारपीट करने के बाद रजिया की हालत बिगड़ने लगी। 

 

मामा के घर पर रजिया को बंधक बना कर रखा

बताया जा है कि पिछले महीने नईम ने मारपीट करने के बाद रजिया को अपने मामा इकबाल के छावनी स्थित घर में कैद कर लिया था। वहां से रजिया को उसके भाई-बहन ने छुड़ाया। उस वक्त रजिया की हालत काफी खराब थी। जिसके बाद उसे अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। करीब एक महीने से रजिया का इलाज चल रहा था। 


पति और ससुरालवालों पर आरोप

रजिया की बहन ने रजिया के पति और उसके ससुराल वालों सहित नईम के मामा को मौत का जिम्मेदार बताया है। रजिया के बड़े भाई अजगर अली ने कहा कि, नईम सिर्फ रजिया का ही नहीं, बल्कि पूरे परिवार का गुनहगार है। उसको कड़ी सजा दिलाई जाएगी। 

 

रजिया के पति की तलाश जारी

फिलहाल पुलिस ने रजिया के पति और उसके ससुरालवालों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं आरोपी पति को गिरफ्तार करने के निर्देश भी दिए हैं। मामले की जांच सीओ अशोक मीना को सौंपी गई है। 


 

Similar News
तीन तलाक बिल का विरोध : 40 हजार मुस्लिम महिलाओं ने निकाली रैली, कहा- शरियत में सुरक्षित हैं हम

तीन तलाक बिल का विरोध : 40 हजार मुस्लिम महिलाओं ने निकाली रैली, कहा- शरियत में सुरक्षित हैं हम

तीन तलाक बिल वापस लेने की मांग, 20 को रैली

तीन तलाक बिल वापस लेने की मांग, 20 को रैली

लोगों ने बीजेपी को तीन तलाक बिल के लिए नहीं, राम मंदिर के लिए वोट दिया था : तोगड़िया

लोगों ने बीजेपी को तीन तलाक बिल के लिए नहीं, राम मंदिर के लिए वोट दिया था : तोगड़िया

तीन तलाक रोकने के लिए निकाहनामे में बदलाव करेगा मुस्लिम लॉ बोर्ड

तीन तलाक रोकने के लिए निकाहनामे में बदलाव करेगा मुस्लिम लॉ बोर्ड

AIMIM प्रमुख ओवैसी पर फेंका गया जूता, तीन तलाक पर कर रहे थे बात

AIMIM प्रमुख ओवैसी पर फेंका गया जूता, तीन तलाक पर कर रहे थे बात

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l