comScore

नागपुर में पहले से ही मनाया जाता रहा है योग दिवस

नागपुर में पहले से ही मनाया जाता रहा है योग दिवस

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  नागपुर समेत पूरे विश्व में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। सुबह से ही शहर की अनगिनत संस्थाएं व योग टीम ने दिन की शुरुआत योग से की।नागपुर में मुख्य कार्यक्रम यशवंत स्टेडियम और रेशमबाग पार्क में आयोजित किया गया। इसके अलावा शहर के अन्य क्षेत्रों में भी योग के कार्यक्रम आयोजित किए गए । वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर योग दिवस मनाए जाने के आह्वान के बाद  11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। प्रधानमंत्री मोदी के इस प्रस्ताव को 90 दिन के अंदर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय है। योग के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर योग दिवस मनाए जाने की शुरुआत के काफी समय पूर्व योग दिवस मनाने की नींव नागपुर में पड़ चुकी थी। 


योग के प्रचार-प्रसार में अहम भूमिका निभा रही संस्था जनार्दन स्वामी योगाभ्यासी मंडल के संस्थापक जनार्दन स्वामी ने वर्ष 1973 में मनपा की ओर से आयोजित कार्यक्रम में तत्कालीन महापौर बालासाहब किनखेेडे से योग के लिए योग दिवस मनाने का सुझाव दिया था। इसके लिए महापौर की ओर से 1000 रुपए दिए गए थे। जनार्दन स्वामी योगाभ्यासी मंडल के कार्यवाहक राम खांडवे बताते हैं आज योग पूरी दुनिया में प्रचारित-प्रसारित हो चुका है। प्रधानमंत्री मोदी की ओर से यह दुनिया को दिया गया बेहतरीन तोहफा है। हालांकि योग दिवस की शुरुआत का श्रेय काफी हद तक नागपुर शहर काे दिया जा सकता है। इसके बाद नागपुर शहर में नियमित रूप से योग दिवस मनाया जाता रहा है।

कमेंट करें
y94sV